Team India के खिलाड़ी Yuzvendra Chahal के परिवार में कोरोना की एंट्री, पिता हाॅस्पिटल में एडमिट, मां का घर में चल रहा इलाज

Must Read

नई दिल्ली। टीम इंडिया के खिलाड़ी ( Team India Player ) युजवेंद्र चहल ( Yuzvendra Chahal ) के परिवार में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है. चहल के माता-पिता कोरोना से संक्रमित ( Corona Positive ) हो गए हैं. ऐसे में चहल के पिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं उनकी मां का घर पर ही इलाज किया जा रहा है. युजवेंद्र चहल की पत्नी धनश्री वर्मा ( Dhanashree Verma ) ने इसकी सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी है. आपको बता दें कि आईपीएल 2021 में युजवेंद्र चहल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ( RCB ) टीम में शामिल थे और अब चहल जुलाई में श्रीलंका जाने वाली भारतीय टीम का भी हिस्सा होंगे.

यह भी पढ़ेंः- Video : जल्द ठीक होने की आशा लेकर ‘लव यू जिंदगी’ सांग पर झूमती युवती ने Corona से हारी जंग

चहल की पत्नी धनश्री वर्मा चहल ( Dhanashree Verma Chahal ) की पत्नी धनश्री वर्मा ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए लिखा है कि, मेरे सास-ससुर कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. ससुर को गंभीर लक्षणों के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि सास का घर पर इलाज किया जा रहा है. मैं आपसे आग्रह करती हूं कि आप भी घर पर सुरक्षित रहें और परिवार का ध्यान रखें. साथ ही धनश्री ने लोगों से जरूरतमंदों की मदद करने और कोविड नियमों का पालन करने की भी अपील की.

चहल की पत्नी धनश्री वर्मा सोषल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती है. डांस की शौकीन धनश्री अपने डांस वीडियो लोगों से शेयर करती रहती हैं.

यह भी पढ़ेंः- T20 World Cup : ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज पैट कमिंस ने कहा, भारत में संसाधनों की कमी रहने पर यहां T20 World Cup नहीं कराना चाहिए

धनश्री ने आगे बताया कि, अप्रेल और मई वास्तव में मेरे लिए काफी चुनौतीपूर्ण रहे हैं. पहले मेरी मां और भाई पॉजिटिव हो गए. जब वो संक्रमित हुए तब मैं आईपीएल बायो बबल में थी.अपने परिवार से दूर रहना वाकई मुश्किल भरा है. सौभाग्य की बात है कि मेरा भाई और मां जल्द ठीक हो गए लेकिन इस घातक वायरस के कारण मैंने अपनी आंटी को खो दिया और अब मेरे सास-ससुर पॉजिटिव पाए गए हैं.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

‘चित्त’ से हैं 33 करोड़ देवी-देवता!

हमें कलियुगी हिंदू मनोविज्ञान की चीर-फाड़, ऑटोप्सी से समझना होगा कि हमने इतने देवी-देवता क्यों तो बनाए हुए हैं...

More Articles Like This