Rajasthan के ‘सियासी संग्राम’ में नया मोड, दिल्ली से खाली हाथ लौटे Pilot, अब बैठक के बाद अगली रणनीति का खुलासा! - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan के ‘सियासी संग्राम’ में नया मोड, दिल्ली से खाली हाथ लौटे Pilot, अब बैठक के बाद अगली रणनीति का खुलासा!

जयपुर | राजस्थान में चल रहा ‘सियासी खेला’ (Rajasthan Political Drama) अब अपने चरम पर बढ़ता नजर आ रहा है। पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और अब कांग्रेस आलाकमानों द्वारा सचिन पायलट (Sachin Pilot) को तज्जवों नहीं दिए जाने के चर्चें सियासी गलियारों का तापमान बढ़ा रहे हैं। गौरतलब है कि सचिन पायलट सीएम गहलोत से सियासी घमासान के बाद अपनी मांगों को लेकर कांग्रेस पार्टी के आलाकमानों के पास दिल्ली पहुंचे थे और उनके प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के साथ मिलने की चर्चा थी, लेकिन दोनों ने ही पायलट को मिलने का समय नहीं दिया।

ये भी पढ़ें:- Rajasthan का सियासी खेलाः कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक भंवरलाल शर्मा बोले- मैं भी बनना चाहता था सीएम, लेकिन गहलोत ने नहीं दिया साथ!

11 जून से दिल्ली में ढेरा, अब लौटना पड़ा निराश
सचिन पायलट 11 जून को शाम दिल्ली पहुंचे थे और वहीं डेरा जमाए हुए थे। पायलट को आशा थी कि उन्होंने जो अपनी मांग रखी है, उसको गंभीरता से लिया जाएगा और समस्या का समाधान होगा। प्रियंका गांधी उनसे से मिलेंगी, लेकिन न तो प्रियंका गांधी उनसे मिले और न ही राहुल गांधी। यहां तक कि केसी वेणुगोपाल और अजय माकन ने भी उनसे मुलाकात नहीं की। ऐसे में अब सभी की निगाहें सचिन पायलट पर है कि वे आगे क्या कदम उठाने वाले हैं।

ये भी पढ़ें:- पीएम मोदी और भाजपा को अपने हनुमान पर नहीं आ रही है दया, काम निकला तो पहचानते तक नहीं…

विधायकों के साथ बैठक में बन सकती है अगली रणनीति
सूत्रों के अनुसार, सचिन पायलट गुट के आवास पर आज सुबह से ही सियासी हलचल देखी जा रही है। आज सचिन पायलट गुट के विधायक पायलट के सरकारी आवास पर पहुंचेंगे, जहां पर सचिन पायलट इन विधायकों के साथ बैठक के बाद अपनी अगली रणनीति का खुलासा कर सकते हैं।

गौरतलब है कि सचिन पायलट पिछले एक साल से राज्य सरकार से नाराज चल रहे हैं। जिसके बाद राजस्थान सरकार में कांग्रेस के अशोक गहलोत गुट और सचिन पायलट गुट नजर आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें:-Ayodhya plot dispute : आरोप लगने से नाराज हुए साक्षी महाराज कहा-कारसेवकों पर गोली चलाने वाले ना सिखाएं भक्ति

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *