nayaindia udaipur violence हत्यारों ने ‘2611’ नंबर लिया था
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| udaipur violence हत्यारों ने ‘2611’ नंबर लिया था

हत्यारों ने ‘2611’ नंबर लिया था

जयपुर। राजस्थान के उदयपुर में हिंदू दर्जी कन्हैयालाल साह की गला काट कर हत्या करने वाले आरोपियों की भले आतंकवादियों से साठ-गांठ नहीं रही हो लेकिन भारत के खिलाफ होने वाली आतंकवादी गतिवधियों से उनका लगाव रहा है। राजस्थान पुलिस की जांच में इसका सनसनीखेज खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि हत्यारों ने अपनी मोटरसाइकल के लिए ‘2611’ नंबर की प्लेट लेने के के लिए अलग से पांच हजार रुपए दिए थे।

ध्यान रहे ‘2611’ सिर्फ एक नंबर नहीं है। यह भारत पर हुए सबसे बड़े आतंकवादी हमले की तारीख है। 26 नवंबर 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकवादियों ने मुंबई पर हमला किया था और 175 लोगों को मार डाला था। कन्हैयालाल के हत्यारों के आतंकवादियों से मिले होने के पहलू से जांच के दौरान पुलिस को यह जानकारी मिली है। हत्या के बाद दोनों हत्यारे- गौस मोहम्मद और रियाज अख्तरी जिस मोटरसाइकल से फरार हुए थे उसका रजिस्ट्रेशन नंबर ‘आरजे 27 एएस 2611’।

हत्यारों को गिरफ्तार किए जाने के बाद यह मोटरसाइकल उदयपुर के धन मंडी पुलिस स्टेशन में है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि अपराधियों में से एक रियाज ने खासतौर से ‘2611’ नंबर मांगा और इस नंबर प्लेट के लिए पांच हजार रुपए अतिरिक्त दिए। गौरतलब है दोनों आरोपियों ने कन्हैयालाल साह की दुकान में जाकर कपड़े का नाप लेने को कहा था और वहीं गला काट कर हत्या कर दी थी। एक आरोपी ने इसकी वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर सार्वजनिक भी कर दिया। इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी एनआईए को सौंप दी गई है। आतंकी घटना के पहलू से भी इसकी जांच हो रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

eleven + 18 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
तृणमूल कांग्रेस के नेता को सीबीआई ने गिरफ्तार किया
तृणमूल कांग्रेस के नेता को सीबीआई ने गिरफ्तार किया