nayaindia Uddhav and Pawar made a strategy उद्धव और पवार ने बनाई रणनीति
ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया| Uddhav and Pawar made a strategy उद्धव और पवार ने बनाई रणनीति

उद्धव और पवार ने बनाई रणनीति

leaders MVA under investigation

मुंबई। गुवाहाटी जाकर बैठे शिव सेना के बागी विधायकों की बढ़ती संख्या के बीच शुक्रवार को एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने आगे की रणनीति पर विचार किया। गौरतलब है कि एनसीपी के नेता लगातार शिव सेना को समर्थन देने की बात कर रहे हैं। एनसीपी नेता और राज्य के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि उद्धव सरकार बहुमत में है और फैसले कर सकती है।

बहरहाल, उद्धव ठाकरे के आवास ‘मातोश्री’ में शुक्रवार को एक अहम बैठक हुई। इसमें एनसीपी प्रमुख शरद पवार, उनके भतीजे और राज्य के उप मुख्यमंत्री अजित पवार, राज्य सरकार के मंत्री जयंत पाटिल, पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल और शिव सेना सांसद संजय राउत शामिल हुए। बताया जा रहा है कि बैठक में मौजूदा हालात के बाद बन रही संभावना और तकनीकी पहलुओं पर विचार किया गया। स्पीकर और राज्यपाल की भूमिका को लेकर भी इस बैठक में चर्चा हुई।

इस बीच शिव सेना ने अपनी पार्टी के चार और विधायकों को अयोग्य ठहराने की चिट्ठी विधानसभा के डिप्टी स्पीकर को भेजी है। इससे पहले शिव सेना ने गुरुवार को 12 विधायकों को अयोग्य ठहराने की चिट्ठी लिखी थी। इस तरह शिव सेना अभी तक 16 विधायकों को अयोग्य ठहराने की चिट्ठी लिख चुकी है। ध्यान रहे नाना पटोले के इस्तीफे के बाद से स्पीकर की नियुक्ति नहीं हुई है और एनसीपी के डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल ही कार्यकारी स्पीकर के तौर पर काम कर रहे हैं। खबर है कि शिवसेना की लीगल टीम भी विधानसभा पहुंची थी।

दूसरी ओर बागी विधायकों के नेता एकनाथ शिंदे गुट के दो निर्दलीय विधायकों, महेश बलदी और विनोद अग्रवाल ने डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल को हटाने के लिए नोटिस दिया है। उहोंने नरहरी जिरवाल पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने बिना सलाह लिए अजय चौधरी को शिव सेना विधायक दल का नेता चुन लिया। इससे पहले शुक्रवार को दिन में खबर थी कि एककनाथ शिंदे मुंबई आ सकते हैं और विधायकों के समर्थन वाला लेटर भी जिरवाल को सौंप सकते हैं। वे मुंबई के लिए निकले भी थे पर तीन घंटे तक गुवाहाटी में घूमने के बाद वापस होटल लौट गए।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published.

eleven − 5 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अब नीतीश-तेजस्वी की सरकार!
अब नीतीश-तेजस्वी की सरकार!