कोरोना वॉरियर्स पर कोरोना कहर: सरकार ने खत्म की कोरोना वॉरियर्स को मिलने वाली बीमा योजना! - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली| नया इंडिया|

कोरोना वॉरियर्स पर कोरोना कहर: सरकार ने खत्म की कोरोना वॉरियर्स को मिलने वाली बीमा योजना!

नई दिल्ली। Union Govt Ends COVID-19 Warriors Insurance Scheme : कोरोना का कहर अब कोरोना वॉरियर्स पर भी टूट पड़ा है। कोरोना संक्रमण (Covid 19) के दौरान अपनी जान को जोखिम में डालकर लोगों की जान बचाने में लगे कोरोना वॉरियर्स को मिलने वाली बीमा योजना पर कोरोना ग्रहण लग गया। केंद्र सरकार ने कोरोना वॉरियर्स (Corona Warriors) को मिलने वाली बीमा योजना को वापस ले लिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इसको लेकर राज्य सरकारों को पत्र भी लिखा है। 24 मार्च को लिखा गया ये पत्र अब सामने आया है।

ये भी पढ़ें :- Bihar: जदयू विधायक और पूर्व मंत्री Mevalal Chaudhary का कोरोना से निधन, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जताया शोक

नहीं कही गई बीमा योजना को आगे बढ़ाने की बात
24 मार्च को राज्यों को लिखे पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने लिखा है कि, इस बीमा योजना को शुरू में 90 दिन के लिए लागू किया गया था, लेकिन बाद में इसे बढ़ाकर 24 मार्च 2021 तक कर दिया गया था। कोरोना के इस दौर में इस योजना ने ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले स्वास्थ्यकर्मियों के परिवार को राहत देने का काम किया है। लेकिन इस पत्र में इस बीमा योजना को बढ़ाने की बात नहीं कही गई है। जिससे साफ तौर पर जाहिर होता है कि 24 मार्च 2021 को ये योजना खत्म हो गई है। हालांकि, स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्वीट कर जानकारी दी कि, इस योजना के अन्तर्गत 24 अप्रेल 2021 तक बीमा क्लेम कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें :- राजस्थान में कर्फ्यू भी नहीं रोक पा रहा कोरोना ब्लास्ट, 10 हजार पार गए नए मामले, मौतों ने भी बनाया रिकॉर्ड

आपको बता दें कि सरकार ने पिछले साल प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत स्वास्थ्यकर्मियों के लिए बीमा योजना शुरू की थी। 26 मार्च को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस योजना की घोषणा की थी। जिसके तहत कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों का 50 लाख रुपए तक का बीमा कवर किया गया था। इस योजना को शुरुआत में 90 दिन के लिए लागू किया गया था, लेकिन बाद में इसको बढ़ाकर 24 मार्च 2021 कर दिया गया था। इसके तहत सरकारी सहित प्राइवेट डॉक्टरों को भी कवर किया गया था। अगर ड्यूटी के दौरान किसी स्वास्थ्यकर्मी की मौत हो जाती है, तो उनके परिवार को 50 लाख रुपए तक की सुरक्षा मिलती।

ये भी पढ़ें :- कोरोना का तांडव! देशभर में पौने तीन लाख नए केस आए सामने, कोरोना से हुई मौतों ने तोड़ा रिकाॅर्ड

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *