कोरोना ने किसी को नहीं बख्शा : दिल्ली विश्वविद्यालय के 30 से ज्यादा शिक्षकों की कोरोना से मौत - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली| नया इंडिया|

कोरोना ने किसी को नहीं बख्शा : दिल्ली विश्वविद्यालय के 30 से ज्यादा शिक्षकों की कोरोना से मौत

New Delhi: देश में कोरोना की दूसरी लहर ने किसी को भी नहीं बख्शा है., आम हो या खास सभी इस महामारी के शिकार हो रहे हैें. दिल्ली विश्वविद्यालय से जुड़ा हुआ है. दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (डूटा) ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर ने विश्वविद्यालय के कई शिक्षकों की जान ले ली है. डीयू के उपाध्यक्ष ने कोरोना संक्रमण से शिक्षकों की हुई मौत पर परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की है. साथ ही उन्होंने कुलपति और मंत्रालय को भी पत्र लिखा है. बताया जाता है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के विभिन्न कॉलेजों के करीब तीन दर्जन शिक्षकों की मौत कोरोना से हुई है. दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष डॉक्टर आलोक रंजन पांडेय ने कहा है कि कोरोना की वजह से हमारे जिन शिक्षकों की मौत हो रही है, उसके लिए हमने ‘डूटा’ की तरफ से कुलपति और मंत्रालय को पत्र भी लिखा है कि कम-से-कम उनके परिवार के एक सदस्य को नौकरी दें.

अबतक 35-36 शिक्षकों की हो चुकी है मौत

डॉ आलोक रंजन पांडेय ने कहा कि पिछले एक महीने में दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के लगभग 35-36 शिक्षकों की मौत हो चुकी है. एक-एक कॉलेज से 3-3 शिक्षकों की मौत हुई है. ऐसा कोई कॉलेज नहीं है, जहां किसी शिक्षक या छात्र की मौत ना हुई हो. एडहॉक शिक्षकों को लेकर हमें संवेदना है. बता दें कि कि इससे पहले कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से दिल्ली विश्वविद्यालय के मृत शिक्षकों के परिजनों को डीयू टीचर वेलफेयर फंड सेआर्थिक मदद मुहैया कराने का निर्णय किया है. इसके अनुसार एक मार्च, 2021 के बाद जिन शिक्षकों की मौत हुई है, उनके परिजनों को अधिकतम 10 लाख रुपये की मदद देने का फैसला किया गया है.

इसे भी पढें – CM Tirath singh Rawat के नाक के नीचे से अस्पताल प्रबंधन ने छिपाए 65 संक्रमित मौतों के आंकड़ें

कोरोना के नये मामलों में कुछ राहत

दिल्ली में सोमवार को कोविड-19 के 4524 नए मामले सामने आए, जोकि पांच अप्रैल के बाद से एक दिन में सबसे कम नए मामले हैं. इसके पहले 5 अप्रैल को संक्रमण के 3,548 नए मामले दर्ज किए गए थे. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में राष्ट्रीय राजधानी में महामारी से 340 मरीजों की मौत हुई जबकि संक्रमण दर गिरकर 8.42 प्रतिशत रही. दिल्ली में कोविड के हालात में सुधार हुआ है और पिछले कुछ दिनों में धीरे-धीरे संक्रमण की दर और नए मामलों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई है. बुलेटिन के अनुसार संक्रमण दर गिरकर 8.42 प्रतिशत रही है, जोकि नौ अप्रैल के बाद से सबसे कम दर्ज की गई है. 9 अप्रैल को संक्रमण दर 7.8 प्रतिशत थी.

इसे भी पढें –Good news : ब्लैक फंगस के लिए भी आया इंजेक्शन- एम्फोटेरिसन-बी लाइपोसोमल..आइये जानते है कैसे काम करता है ये इंजेक्शन 

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Corona Crisis : कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के साथ आया क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया, मदद के लिए दिए इतने रूपये
Corona Crisis : कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के साथ आया क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया, मदद के लिए दिए इतने रूपये