उन्नाव पीड़िता का आज अंतिम संस्कार

उन्नाव। उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता का अंतिम संस्कार आज होगा। उसके पार्थिव शरीर को कड़ी सुरक्षा के बीच यहां दफनाया जाएगा। गौरतलब है कि गुरुवार (5 दिसंबर, 2019) को युवती दुष्कर्म के मामले में पैरोकारी के लिए रायबरेली जा रही थी। तभी कुछ लोगों ने उसपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग के हवाले कर दिया। दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में शुक्रवार रात 11.40 बजे उसकी मौत हो गई।

पीड़िता के शव को शनिवार रात उसके गांव हिंदूपुर लाया गया।पीड़िता के भाई ने कहा, “हम उसे जमीन के एक भूखंड में दफनाएंगे जो गांव के बाहरी इलाके में परिवार का है। जैसा कि वह काफी हद तक जल चुकी थी और उसके शरीर में लगभग कुछ भी नहीं बचा है। हम यहां उसके लिए एक स्मारक बनाने की कोशिश करेंगे।”

परिवार के अनुसार, अविवाहित लड़कियों का अंतिम संस्कार नहीं किया जाता, बल्कि उनके समुदाय में दफनाया जाता हैभाई ने कहा कि वे पुणे से कुछ रिश्तेदारों के आने का इंतजार कर रहे थे और उसके बाद मृतका को दफनाया जाएगा।

रविवार की सुबह, पीड़िता के पिता ने कहा कि वह चाहते है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दफन प्रक्रिया शुरू होने से पहले उनसे मिलें।शनिवार से गांव में तैनात वरिष्ठ अधिकारी परिवार को समझा रहे हैं कि उनकी सभी मांगें पूरी की जाएंगी और उन्हें दफनाने में देरी नहीं करनी चाहिए क्योंकि पहले ही मौत को 36 घंटे हो चुके हैं।

आदित्यनाथ ने पहले ही परिवार के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 25 लाख रुपये और एक घर का मुआवजा देने की घोषणा की है।उन्होंने यह भी घोषणा की है कि इस मामले को शीघ्र न्याय सुनिश्चित करने के लिए एक फास्ट ट्रैक कोर्ट में भेजा जाएगा।

दो राज्य मंत्री मृतका के अंतिम संस्कार के दौरान मौजूद रहेंगे।इस बीच आसपास के चार जिलों से अतिरिक्त बलों को गांव में तैनात किया गया है और क्षेत्र में फायर टेंडर भी तैनात किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares