Up election akhilesh jayant सपा-रालोद का गठबंधन तय
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Up election akhilesh jayant सपा-रालोद का गठबंधन तय

सपा-रालोद का गठबंधन तय

Up election akhilesh jayant

लखनऊ। समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल का गठबंधन तय हो गया है। राष्ट्रीय लोकदल के नेता जयंत चौधरी ने मंगलवार को सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की और उसके बाद एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि दोनों पार्टियों का गठबंधन तय हो गया है और जल्दी ही इसकी घोषणा होगी। जानकार सूत्रों के मुताबिक गठबंधन में रालोद को 36 सीटें मिलेंगी, जिसमें से दो सीटें पूर्वी उत्तर प्रदेश की होंगी। बाकी सभी सीटें पश्चिमी उत्तर प्रदेश के चार-पांच जाट बहुल जिलों में होंगी।

बहरहाल, मंगलवार को अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद रालोद प्रमुख जयंत चौधरी ने दोनों की तस्वीर के साथ एक ट्विट किया, जिसमें उन्होंने लिखा- बढ़ते कदम। बाद में एक निजी न्यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल का गठबंधन तय है और जल्दी ही इसका ऐलान किया जाएगा। बताया जा रहा है कि सीटों को लेकर अब भी बातचीत चल रही है। संख्या पर लगभग सहमति बन गई है लेकिन कौन-कौन सी सीटें होंगी, इसे लेकर बातचीत आखिरी चरण में है।

up assembly election Defection

Read also सेंट्रल हॉल में 26 नवंबर को मनेगा संविधान दिवस

तीनों विवादित केंद्रीय कृषि कानूनों को वापस लिए जाने के बाद भाजपा के साथ तालमेल करने की अटकलों को खारिज करते हुए जयंत चौधरी ने कहा कि भाजपा के साथ जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता। जयंत चौधरी ने कुछ ही दिन पहले कहा था कि इस महीने के अंत तक दोनों पार्टियों के गठबंधन का ऐलान हो जाएगा। तभी अंदाजा लगाया जा रहा है कि एक-दो दिन में ही गठबंधन का ऐलान हो सकता है। इससे पहले सपा ने भाजपा की पुरानी सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी से तालमेल कर लिया है।

बहरहाल, सपा और रालोद ने 2017 का चुनाव विधानसभा चुनाव और 2019 का लोकसभा चुनाव साथ मिल कर लड़ा था। दोनों चुनावों में राष्ट्रीय लोकदल के हाथ कुछ भी नहीं लगा। हालांकि इस बार किसान आंदोलन की वजह से उम्मीद की जा रही है कि रालोद को फायदा हो सकता है। सपा और रालोद दोनों मिल कर किसानों की नाराजगी को वोट में बदलना चाहते हैं। उनका मकसद जाट और मुस्लिम वोट एकजुट करने का भी है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
जर्मनी की नई दिशा
जर्मनी की नई दिशा