nayaindia Uttar pradesh : सपा सांसद ने शादी समारोह के दौरान बार-बालाओं के साथ लगाए ठुमके, FIR की तैयारी - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

Uttar pradesh : सपा सांसद ने शादी समारोह के दौरान बार-बालाओं के साथ लगाए ठुमके, FIR की तैयारी

गोरखपुर |  देशभर में कोरोना के मामले कुछ कम जरूर हुआ है लेकिन अभी भी सावधानी बरतने की जरूरत है. गोरखपुर से सपा के सांसद शैलेंद्र यादव का एक शादी में ठुमके लगाते हुए वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि शादी के दौरान कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है. उत्तर प्रदेश में अभी भी शादी समारोह को लेकर जो गाइडलाइन जारी की गई है उसके अनुसार शादी समारोह में किसी भी तरह का सामूहिक आयोजन करने पर मनाही है. इसके बाद भी सांसद सब कुछ भूल कर बार बालाओं के साथ ठुमके लगाते नजर आ रहे हैं.

हाथ में सपा का झंडा और गाना भी अखिलेश यादव जिंदाबाद..

वीडियो में देखा जा रहा है कि शैलेंद्र यादव के हाथ में समाजवादी पार्टी का झंडा है जिसे वे नाचने के दौरान अपने सर पर बांधते हुए दिख रहे हैं. शादी समारोह में मौजूद लोग उनका वीडियो भी बना रहे हैं लेकिन इन सबसे बेपरवाह सांसद शायद अपने पसंदीदा गाने पर सब कुछ भूल गए. गाने के बोल भी कुछ यूं थे…. अखिलेश यादव जिंदाबाद… 2022 समाजवादी का झंडा यूपी में लहराएंगे…….

इसे भी पढ़ें-  Kannada language controversy: Google ने मांगी माफी, कहा सर्च इंजन ‘हमेशा परफेक्ट’ नहीं होती

पुलिस ने कहा दर्ज होगी FIR 

इस पूरे प्रकरण पर गोरखपुर के एसएसपी दिनेश कुमार का कहना है कि पुलिस को भी यह वीडियो मिला है. एसएसपी ने कहा कि वीडियो को साक्षी मानते हुए डांस का आयोजन करने वालों और डांस करने वालों के खिलाफ कोविड-19 के उल्लंघन समिति संबंधित धाराओं पर FIR दर्ज की जाएगी. यहां बता दें कि शादी समारोह के दौरान की किसी की चेहरे पर मास्क नहीं दिख रहा. सांसद शैलेंद्र यादव की पत्नी रेनू यादव की वार्ड नंबर 17 से जिला पंचायत के सदस्य हैं. बताया जा रहा है कि वधू पक्ष की ओर से बार बालाओं को बुलाया गया था.

इसे भी पढ़ें-  Mumbai Fire : मुंबई में एक बार फिर लगी भीषण आग, मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां

Leave a comment

Your email address will not be published.

12 − one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
थोक महंगाई 13.93 फीसदी
थोक महंगाई 13.93 फीसदी