Varun Gandhi Letter Yogi किसानों के लिए वरुण ने लिखी चिट्ठी
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Varun Gandhi Letter Yogi किसानों के लिए वरुण ने लिखी चिट्ठी

किसानों के लिए वरुण ने लिखी चिट्ठी

varun gandhi

नई दिल्ली। किसानों की महापंचायत का समर्थन करने और करनाल में किसानों पर लाठी चलाने का आदेश देने वाले आईएएस अधिकारी की वीडियो की आलोचना करने के बाद अब भाजपा के सांसद वरुण गांधी ने किसानों के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखी है। वरुण गांधी ने इसमें कई तरह की मांगें रखी हैं। रविवार को लिखी इस चिट्ठी में वरुण गांधी ने मुख्यमंत्री से अपील की है कि गन्ने की कीमतों में बड़ा इजाफा किया जाए, गेहूं और धान की फसल पर बोनस दिया जाए, पीएम किसान योजना में मिलने वाली राशि को दोगुना कर दिया जाए और डीजल पर सब्सिडी दी जाए। Varun Gandhi Letter Yogi

ऐन विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा सांसद वरुण गांधी की यह चिट्ठी राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार की मुश्किलें बढ़ाने वाली हो सकती है। उन्होंने केंद्र सरकार की योजना की राशि बढ़ाने की भी अपील की है। वरुण गांधी पहले भी किसानों से बातचीत करने की सलाह दे चुके हैं। बहरहाल, पीलीभीत से भाजपा सांसद वरुण ने मुख्यमंत्री को लिखे दो पन्ने की चिट्ठी में किसानों की सभी समस्याओं, उनकी मांगों का जिक्र करते हुए उनके समाधान भी सुझाए हैं।

Yogi Aditynath CM Elelction :

Read also केरल और देश में कम हुए केस

वरुण गांधी ने सलाह दी है कि गन्ने का मूल्य चार सौ रुपए प्रति क्विंटल कर दिया जाए, जो अभी 315 रुपए प्रति क्विंटल है। उन्होंने कहा है कि किसानों को गेहूं और धान पर दो सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर से एमएसपी पर अतिरिक्त बोनस मिलना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत मिलने वाली राशि को छह हजार से बढ़ा कर 12 हजार रुपए कर दिया जाए। केंद्र की तरह राज्य सरकार भी छह हजार रुपए सालाना दे। किसानों की समस्याएं गिनाते हुए वरुण गांधी ने बिजली और डीजल की ऊंची कीमत का जिक्र किया। उन्होंने यूपी के सीएम से अपील की है कि किसानों को डीजल पर प्रति लीटर 20 रुपए की सब्सिडी दी जाए और बिजली की कीमत कर दी जाए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
SC ने कहा- कार्यस्थल पर पति का अपमान करना भी माना जा सकता है तलाक का आधार …
SC ने कहा- कार्यस्थल पर पति का अपमान करना भी माना जा सकता है तलाक का आधार …