वसुंधरा ने दो महीने का वेतन एवं एक लाख की सहायता देने का लिया निर्णय

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री राहत कोष में अपने दो महीने का वेतन दान करने एवं विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास निधि (एमएलएएलएडी) से एक लाख रुपए देने का निर्णय लिया है।

राजे ने आज सोशल मीडिया के जरिए इसकी जानकारी देते हुए बताया कि वह कोविड-19 के प्रकोप से निपटने के लिए मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री राहत कोष में अपने दो महीने का वेतन दान करने तथा अपने एमएलएएलएडी से एक लाख की राशि जारी करने का फैसला किया है।

उन्होंने कहा कि इस राशि का उपयोग चिकित्सकीय आवश्यकताओं की पूर्ति एवं दवाइयां खरीदने के लिए किया जाएगा। उन्होंने देश के कर्तव्यनिष्ठ नागरिक होने के नाते आज का समय समाज के प्रति हमारी जिम्मेदारियों को समझने तथा इस महामारी के खिलाफ मिलकर लड़ने का बताते हुए सभी से आग्रह किया कि संकट की इस घड़ी में अपनी श्रद्धानुसार सभी को दान कार्य में अपनी भागीदारी निभानी चाहिए।

उन्होंने बताया कि उनकी कोविड-19 टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। हालांकि सावधानी के तौर पर वह और उनके पुत्र दुष्यंत सिंह दो सप्ताह तक आइसोलेशन में ही रहेंगे। उल्लेखनीय है कि राजे एवं सिंह हाल में एक पार्टी में गायिका कनिका कपूर से मिलने के बाद ऐहतियातन दोनों का कोरोना टेस्ट कराया गया और वे आसोलेशन में रहे रहे है। कनिका कपूर कोरोना वायरस पॉजीटिव पाई गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares