nayaindia West Bengal Assembly Election 2021 : कोरोना के बीच पश्चिम बंगाल में 43 सीटों के लिए मतदान जारी, हिंसा को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया|

West Bengal Assembly Election 2021 : कोरोना के बीच पश्चिम बंगाल में 43 सीटों के लिए मतदान जारी, हिंसा को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम

कोलकाता। West Bengal Assembly Election 2021 : कोरोना संकट (Covid 19) के बीच पश्चिम बंगाल में आज गुरूवार को छठे चरण के तहत चार जिलों की 43 विधानसभा सीटों पर वोटिंग (Voting) हो रही है. इस चरण में 1 करोड़ से ज्यादा मतदाता 306 उम्मीदवारों की किस्मत तय करेंगे. मतदान के लिए 14,480 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इस छठे चरण में उत्तर 24 परगना जिले की 17 सीटों के अलावा नादिया और उत्तर दिनाजपुर की 9-9 व पूर्ब बर्द्धमान की आठ सीटों पर मतदान हो रहा है. वहीं मतदान शुरू होने के बाद उत्तर 24 परगना के नैहाती विधानसभा क्षेत्र में दो पोलिंग बूथों पर हंगामा होने की खबर है.


इस चरण के प्रमुख उम्मीदवारों में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय, तृणमूल के मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक और चंद्रिमा भट्टाचार्य तथा माकपा नेता तन्मय भट्टाचार्य शामिल हैं. इसके अलावा फिल्म निर्देशक राज चक्रवर्ती और अभिनेत्री कौसानी मुखर्जी भी तृणमूल प्रत्याशी के रूप में मैदान में हैं. इस चरण में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच होगा.

यह भी पढ़ें:- कोरोना अपडेटः राहुल गांधी के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर भी आये कोरोना की चपेट में, अधीर रंजन चौधरी भी कोरोना पॉजिटिव

कोरोना के प्रकोप के बावजूद बंगाल में मतदान के प्रति लोगों में उत्साह देखा जा रहा है. उत्तर दिनाजपुर जिले में बूथ नंबर 175 पर सुबह से ही मतदाताओं की लंबी-लंबी लाइनें लग गईं. पश्चिम बंगाल में भाजपा उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह ने नॉर्थ 24 परगना के जगतडाल में बूथ नंबर 144 पर मतदान किया.

यह भी पढ़ें:- Maharashtra Lockdown : महाराष्ट्र में आज से 1 मई तक ‘लॉकडाउन! बाहर निकलने पर 10 हजार का जुर्माना, शादियों में सिर्फ 25 मेहमान

West Bengal Assembly Election : कोरोना के बीच हो रही वोटिंग के लिए सख्त कदम उठाए गए हैं. मतदान प्रक्रिया के दौरान कोविड संबंधी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा. साथ ही पिछले चरणों में हिंसा को देखते हुए सुरक्षा उपाय सख्त किए गए हैं. चैथे चरण के मतदान में 10 अप्रेल को कूच बिहार में 5 लोगों की मौत हो गयी थी. इसके चलते छठे चरण में केंद्रीय बलों की कम से कम 1,071 कंपनियों को तैनात करने का फैसला किया है.

Leave a comment

Your email address will not be published.

one + two =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
केस पर केस के बाद, आजम खान को आखिर SC से मिली अंतरिम जमानत …
केस पर केस के बाद, आजम खान को आखिर SC से मिली अंतरिम जमानत …