West Bengal Assembly Election: ममता के बाद भाजपा नेता राहुल सिन्हा पर चला चुनाव आयोग डंडा, लगाया 48 घंटे का बैन - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

West Bengal Assembly Election: ममता के बाद भाजपा नेता राहुल सिन्हा पर चला चुनाव आयोग डंडा, लगाया 48 घंटे का बैन

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चुनाव जारी है और चुनाव आयोग (Election Commission) ने ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) के चुनाव प्रचार करने पर लगाई रोक लगाई थी और अब भाजपा नेता राहुल सिन्हा (BJP leader Rahul Sinha) की कथित टिप्पणी के लिए उनके चुनाव प्रचार (Election Campaign) करने पर आज 48 घंटे की रोक लगाते हुए कहा कि उनकी टिप्पणी मानव जीवन का उपहास उड़ाने वाली और बेहद भड़काऊ थी।

राहुल सिन्हा (Rahul Sinha) ने कथित रूप से कहा था कि विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के दौरान पश्चिम बंगाल (West Bengal) के कूच बिहार जिले के सीतलकूची में केंद्रीय सुरक्षा बलों को चार लोगों के बजाय आठ लोगों की हत्या कर देनी चाहिए थी। निर्वाचन आयोग ने कहा, मानव जीवन का उपहास उड़ाते हुए उन्होंने बेहद भड़काऊ टिप्पणी की और बलों को भड़काने का काम किया जिससे कानून-व्यवस्था के गंभीर नतीजे हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें – Bengal Election 2021: बंगाल में ताबतोड़ चुनावी रैलियों के साथ ही बढ़ रही कोरोना संक्रमण की रफ्तार, 1.7 फीसदी पहुंची मृत्यु दर

चुनाव आयोग (Election Commission) ने सिन्हा की टिप्पणी को आदर्श आचार संहिता और जन प्रतिनिधित्व कानून के विभिन्न प्रावधानों और भारतीय दंड संहिता की धाराओं का उल्लंघन बताया है।

चुनाव आयोग (Election Commission) के आदेश के अनुसार सिन्हा पर यह पाबंदी आज दोपहर 12 बजे से शुरू होगी और 15 अप्रैल को दोपहर 12 बजे तक बनी रहेगी। आयोग ने कहा कि उसने मामले की गंभीरता को देखते हुए सिन्हा को बिना कोई नोटिस जारी किए आदेश जारी किया है। आयोग ने सिन्हा के बयान का स्वत: संज्ञान लिया।

इसे भी पढ़ें – Delhi: बढ़ते कोरोना के बीच CBSE छात्रों के समर्थन में उतरे CM Arvind Kejriwal, युवाओं से की ये अपील

आदेश में घटना के बाद राहुल सिन्हा के बयान का जिक्र किया गया है, ‘केंद्रीय बलों को उन्हें मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए। अगर वे फिर से ऐसा करते हैं तो फिर उसी तरह कड़ाई से निपटना चाहिए। केंद्रीय बलों को सीतलकूची में चार के बजाए आठ लोगों को मारना चाहिए था। केंद्रीय बलों को एक कारण बताओ नोटिस जारी होना चाहिए कि उन्होंने केवल चार लोगों को क्यों मारा।

आदेश के अनुसार, चुनाव आयोग भाजपा नेता राहुल सिन्हा (BJP leader Rahul Sinha) के उपरोक्त बयानों की निंदा करता है और उन्हें आगे चुनाव आचार संहिता लागू रहने के दौरान सार्वजनिक रूप से ऐसे बयान नहीं देने की चेतावनी देता है।

इसे भी पढ़ें – Bengal Election 2021 : चुनाव आयोग के खिलाफ सीएम ममता बनर्जी धरने पर बैठी, TMC सांसद ने कहा लोकतंत्र के लिए काला दिन

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में चौथे चरण के मतदान के दौरान 10 अप्रैल को सीतलकूची विधानसभा क्षेत्र में मतदान केंद्र पर सीआईएसएफ के एक कर्मी की गोलीबारी में चार लोग मारे गए थे। स्थानीय लोगों ने सुरक्षाकर्मी की राइफल छीनने का प्रयास किया था जिसके बाद गोली चलायी गयी थी। पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में चुनाव हो रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});