West Bengal Bypoll 2021: चुनाव प्रचार के दौरान BJP सांसद दिलीप घोष पर हमला
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया| West Bengal Bypoll 2021: चुनाव प्रचार के दौरान BJP सांसद दिलीप घोष पर हमला

West Bengal: भवानीपुर सीट पर चुनाव प्रचार के दौरान BJP सांसद दिलीप घोष पर हमला, सुरक्षाकर्मी ने तानी पिस्तौल

भवानीपुर | West Bengal Bypoll 2021: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा उपचुनाव का घमासान अब चरम पर आ गया है। भवानीपुर सीट (Bhabanipur Seat) पर होने वाले उपचुनाव पर पूरे देश की नजरे टिकी हुई हैं। इस सीट से पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) मैदान में खड़ी हुई है। आज भवानीपुर सीट पर बीजेपी सांसद दिलीप घोष (BJP MP Dilip Ghosh) चुनाव प्रचार करने पहुंचे तो जमकर बवाल हो गया। चुनाव प्रचार के दौरान घोष पर हमला हुआ और धक्का मुक्की की गई। उनके कार्यकर्ताओं से मारपीट की बात भी सामने आई है। जिसके बाद ये मामला गरमाता जा रहा है।

BJP MP Dilip Ghosh ने घोष के साथ हुई इस घटना का आरोप ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कार्यकर्ताओं पर लगाया है। जानकारी के अनुसार, प्रचार के दौरान मामला इतना बढ़ गया कि दिलीप घोष के सुरक्षाकर्मियों को पिस्तौल तक निकालनी पड़ गई।

ये भी पढ़ें :- देश के किसानों को आज नई सौगात देने जा रहे PM Narendra Modi, किसानों को होगा मुनाफा, खाद्यान्नों का भरेगा भंडार

रद्द किया जाए उपचुनाव
West Bengal Bypoll 2021: भाजपा सांसद दिलीष घोष (Dilip Ghosh) ने अपने साथ घटी घटना के बाद मांग की है कि उपचुनाव रद्द होना चाहिए। घोष ने कहा कि, अगर हमारे जैसे नेता को यहां सुरक्षित नहीं है तो आम आदमी कैसे जाकर मतदान करेगा। सांसद घोष ने TMC पर आरोप लगाते हुए कहा कि, चुनाव प्रचार के दौरान गुंडो ने हम पर हमला किया और कार्यकर्ताओं को मारा। हमारे कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं। इसलिए इस परिस्थिति में चुनाव संभव नहीं है। ऐसी सीट पर निष्पक्ष चुनाव होना तो संभव ही नहीं है। जब माहौल शांत होगा तब यहां चुनाव करवाया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें :- Himachal में खंमीगर ग्लेशियर में फंसे 16 ट्रैकर्स, 2 ने तोड़ा दम, मदद के लिए पहुंचने में प्रशासन को लगेगा 3 दिन का समय

Bengal Politics Mamta Banerjee :

सुरक्षाकर्मियों के पिस्तौल निकालने पर भड़की TMC
वहीं दूसरी ओर, TMC ने भी BJP को आड़े हाथों लिया है। सांसद दिलीष घोष के सुरक्षाकर्मियों के पिस्तौल निकालने पर टीएमसी ने कहा कि, दिन के उजाले में जनता की तरफ बंदूक दिखाने की हिम्मत कैसे हुई। क्या लोगों को उन नेताओं के खिलाफ विरोध करने का अधिकार नहीं है जिनका वे समर्थन नहीं करते?

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
West Bengal में BJP कार्यकर्ता की हत्या, गरमाया राजनीतिक माहौल, मंगलवार को दीनाजपुर बंद का ऐलान
West Bengal में BJP कार्यकर्ता की हत्या, गरमाया राजनीतिक माहौल, मंगलवार को दीनाजपुर बंद का ऐलान