nayaindia West Bengal Municipal Election 2022: ‘दीदी’ के राज्य में 4 नगर निगमों के चुनाव
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया| West Bengal Municipal Election 2022: ‘दीदी’ के राज्य में 4 नगर निगमों के चुनाव

‘ममता दीदी’ के राज्य में आज हो रहे 4 नगर निगमों के चुनाव, लोगों में भारी उत्साह, विपक्ष करना चाहेगा वापसी

election 2022

कोलकाता | West Bengal Municipal Election 2022: देश में पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव 2022 के बीच आज शनिवार को पश्चिम बंगाल में चार नगर निगमों के चुनाव हो रहे हैं। इसके लिए शनिवार को सुबह 7 बजे से वोटिंग शुरू हो चुकी है और शाम 5 बजे तक होगी।

ये भी पढ़ें:- देवभूमि में कंपन! आज तड़के उत्तराखंड में 4.1 तीव्रता का भूकंप, दहशत में लोग

यहां हो रहे चुनाव, जनता में दिख रहा भारी उत्साह
पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के राज में हो रहे इन नगर निगम चुनावों को लेकर लोगों में भारी उत्साह बना हुआ है और लोग सुबह ही पोलिंग बूथ पर पहुंचने लगे हैं। जिससे लोगों की लंबी कतारें दिखाई देने लगी है। ये नगर निगम चुनाव 24 परगना जिले के बिधानगर, हुगली के चंदननगर नगर निगम, आसनसोल नगर निगम, और उत्तर बंगाल के सिलिगुड़ी नगर निगम में हो रहे हैं। बता दें कि, पहले यहां 22 जनवरी को नगर निगम चुनाव कराए जाने थे, लेकिन उच्च न्यायालय के निर्देश के बाद इसे 12 फरवरी तक के लिए टाल दिया गया था। जिसके बाद आज इन्हें संपन्न कराया जा रहा है।

ये भी पढ़ें:- SC ने हिजाब मामले में सुनवाई करने से किया इनकार, कहा- इसे राष्ट्रीय स्तर का मत बनाएं…

ममता का चल सकता है ‘खेला’, विपक्षी करना चाहता है वापसी
West Bengal Municipal Election 2022: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी ने जो ‘खेला’ किया उससे साफ जाहिर है कि, इन चुनावों में भी दीदी अपना ‘खेला’ बरकरार रखना चाहेगी और विपक्ष का सूपड़ा साफ करने की हर कोशिश में रहेंगी। वहीं, दूसरी ओर दीदी की पार्टी टीएमसी के हाथों मिली करारी हार को विपक्ष अब इन चुनावों में किसी भी तरह से जीतकर वापसी करना चाहेगा।

ये भी पढ़ें:- कोरोना महामारी को खत्म मानना होगी बड़ी मूर्खता, WHO वैज्ञानिक ने कहा- कहीं भी, कभी भी पैदा हो सकता है नया वैरिएंट!

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 − 1 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ना जवाबदेही, ना कार्रवाई!
ना जवाबदेही, ना कार्रवाई!