क्या होगा अगर पहली डोज़ कोविशील्ड और दूसरी डोज़ कोवैक्सीन की लगाई जाए....विशेषज्ञों ने दिया इसका जवाब - Naya India
कोविड-19 अपडेटस | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

क्या होगा अगर पहली डोज़ कोविशील्ड और दूसरी डोज़ कोवैक्सीन की लगाई जाए….विशेषज्ञों ने दिया इसका जवाब

New Delhi | पूरा देश कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहा है। महामारी का अभी सबसे बड़ा हथियार कोरोना की वैक्सीन है। जो हमारे वैज्ञानिकों ने हमें कोरोना की संजीनवी बूटी के रूप में दी है। लोगों के मन में यह सवाल आ रहे है कि वैक्सीन की कमी के कारण अगर एक डोज़ कोविशील्ड और दूसरा डोज़ कोवैक्सीन का लें तो क्या असर होगा? इस बारे में एक्सपर्ट ने जवाब दिया है।देश में अभी कोरोना वैक्सीन की कमी हो रही है जिस कारण से कुछ राज्यों में वैक्सीनेशन रोक दिया गया है। कुछ जगह पर कोवैक्सीन की किल्लत हो रही है तो कुछ जगहों पर कोविशील्ड की कमी देखी जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देशभर में अब तक कोरोना वैक्सीन19 करोड़ 85 लाख 38 हजार 999 डोज दी गई है। अब तक 15.52 करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है, जबकि 4.33 लाख लोग टीके की दोनों डोज ले चुके हैं।

इसे भी पढ़ें क्या कल से ट्विटर, फेसबुक को कहना पड़ेगा अलविदा, आज खत्म हो रही सरकारी डेडलाइन..

क्या होगा अलग वैक्सीन लगाने पर

वैक्सीन की कमी के बीच लगातार यह सवाल सामने आ रहा है कि क्या अलग-अलग वैक्सीन की डोज ली जा सकती है।  टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इस पर कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि चाहे कुछ भी हो, वैक्सीन को मिक्स नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि सभी टीके अलग-अलग तरीके से बनाए जाते हैं और अलग तरीके से काम करते हैं। कोरोना की दो अलग-अलग वैक्सीन लगाने पर अत्यंत हानिकारक परिणाम सामने आ सकते है। अभी तक ऐसा कहीं भी प्रयोग नहीं किया गया है और ना ही किया जाना चाहिए। एक्सपर्ट ने यह चेतावनी दी है।

अलग-अलग वैक्सीन लगाने पर हो सकता है रिएक्शन

एक्सपर्ट्स के अनुसार, दो अलग-अलग टीके लगाने पर परिणाम अनुकूल नहीं होंगे।  जैसे दो डोज में कोविशील्ड और कोवैक्सिन की अलग-अलग डोज लगाने पर उसके साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। दो वैक्सीन को मिक्स करके लगाने से थकान और सिरदर्द जैसी दिक्कतें देखने को मिलती हैं। इसके अलावा खून पतला करने वाली दवाओं का उपयोग करने वाले लोगों में ब्लड क्लॉटिंग की समस्या हो सकती है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
यूरोपः वैक्सीन पर तकरार
यूरोपः वैक्सीन पर तकरार