अमीर भाजपा नेता गरीब जेएनयू छात्रों का समर्थन क्यों करेंगे: सपा

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता राम गोपाल यादव ने फीस बढ़ोतरी के विरुद्ध शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू)के छात्रों पर सोमवार को पुलिस लाठीचार्ज की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि उनकी पार्टी विद्यार्थियों की मांगों का पूरा समर्थन करती है और जरूरत पड़ी तो उनके विरोध-प्रदर्शन में शामिल भी होगी।

यादव ने मंगलवार को संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि जेएनयू देश के सबसे बड़े और प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में शामिल है जहां विभिन्न तरह के शुल्क इतने बढ़ा दिये गये हैं जिन्हें गरीब विद्यार्थियों के लिए वहन कर पाना संभव नहीं है।

इसके विरोध में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर किया गया लाठीचार्ज निंदनीय है। उन्होंने कहा कि जेएनयू अनेक विश्व स्तरीय हस्तियों की नर्सरी रहा है। वहां पढ़ रहे अधिसंख्य गरीब छात्रों का आंदोलन उचित है जिसका सपा पूरा समर्थन करती है और आवश्यकता पड़ी तो उनकी पार्टी विद्यार्थियों के विरोध-प्रदर्शन में शामिल भी होगी।

इसे भी पढ़ें :- जेएनयू छात्रों के संसद मार्च को पुलिस ने रोका, प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज

उन्होंने कहा कि अफसोस की बात है कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के विदेश मंत्री एस जयशंकर और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जेएनयू से शिक्षा ग्रहण करके इस मुकाम तक पहुंचे हैं लेकिन उनकी सरकार वहां के छात्रों के साथ न्याय न करके , उनके शांतिपूर्ण आंदोलन को बलपूर्वक कुचल रही है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से जुड़े लोग अमीर हैं जिन्हें गरीब विद्यार्थियों की पीड़ा का एहसास नहीं है इसलिए वे गरीब छात्रों के हक की आवाज न उठाकर उनके साथ की जा रही बर्बरता का समर्थन कर रहे हैं।

यादव ने कहा कि इस गंभीर मसले को संसद में पुरजोर से उठाया गया है और यदि जेएनयू छात्रों के साथ न्याय न किया गया तो फिर इस मसले को राज्य सभा में उठाया जायेगा। गौरतलब है कि जेएनयू के छात्रों के प्रदर्शन के दौरान उन पर किये गये लाठीचार्ज के विरोध में राज्य सभा में आज जोरदार हंगामा हुआ जिससे सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares