international flights be postponed अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का फैसला टलेगा?
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| international flights be postponed अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का फैसला टलेगा?

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का फैसला टलेगा?

international flights be postponed

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के दुनिया भर में तेजी से फैलने की घटना को देखते हुए 15 दिसंबर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने का फैसला टल सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शनिवार को दिए निर्देश के बाद रविवार को गृह मंत्रालय की एक अहम बैठक हुई, जिसमें अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की मंजूरी देने के फैसला की समीक्षा करने पर विचार किया गया। इस आपात बैठक में हालात पर बारीक नजर रखने का फैसला हुआ। जानकार सूत्रों का कहना है कि अगर नए वैरिएंट के केस बढ़ते हैं तो 20 महीने से ज्यादा समय के बाद शुरू होने जा रही अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर फिर विराम लग सकता है। international flights be postponed

रविवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नए वैरिएंट को लेकर हुई आपात बैठक में कहा गया कि ओमिक्रॉन वैरिएंट के कारण दुनिया भर में बन रहे हालात पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इसके आधार पर ही उड़ान शुरू करने के फैसले की समीक्षा की जाएगी। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बैठक बुलाकर इस फैसले की समीक्षा करने को कहा था। इस बीच दिल्ली एम्स के प्रमख डॉ. रणदीप गुलेरिया ने ओमिक्रॉन को बेहद खतरनाक वैरिएंट बताया है और कहा है कि यह वैक्सीन के प्रभाव को भी चकमा दे सकता है।

Read also  पेपर लीक होने से यूपी में टीईटी परीक्षा रद्द

बहरहाल, रविवार को केंद्रीय गृह सचिव की अध्यक्षता में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर एक अहम बैठक हुई। इसमें कहा गया कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को दोबारा शुरू करने की तारीख की समीक्षा की जाएगी। यह इस पर निर्भर करेगा कि आने वाले दिनों में दुनिया में हालात कैसे रहते हैं। मीटिंग में कहा गया कि सरकार अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से आने वाले यात्रियों की टेस्टिंग और सर्विलांस को लेकर मौजूदा मानक संचालन प्रक्रिया यानी एसओपी की भी समीक्षा करेगी। खासतौर पर उन यात्रियों को लेकर अलग से एसओपी जारी की जाएगी, जो जोखिम वाले देशों से आ रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मकर संक्रांति पर देश में मिले 2 लाख 64 हजार से ज्यादा केस, 315 की मौत, एक्टिव केस हुए 12 लाख 72 हजार 73
मकर संक्रांति पर देश में मिले 2 लाख 64 हजार से ज्यादा केस, 315 की मौत, एक्टिव केस हुए 12 लाख 72 हजार 73