आप अब उत्तर प्रदेश में अपना आधार मजबूत करेगी - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

आप अब उत्तर प्रदेश में अपना आधार मजबूत करेगी

लखनऊ। दिल्ली विधानसभा चुनाव में शानदार जीत के बाद आम आदमी पार्टी (आप) अब उत्तर प्रदेश में अपना आधार मजबूत करने की तैयारी कर रही है। पार्टी 23 फरवरी से उत्तर प्रदेश में एक प्रमुख सदस्यता अभियान शुरू कर रही है।

पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी सांसद संजय सिंह ने कहा, पार्टी का लक्ष्य ‘अरविंद केजरीवाल के विकास मॉडल’ को उत्तर प्रदेश में ले जाना और 403 विधानसभा क्षेत्रों में अपना आधार मजबूत करना है। सदस्यता अभियान एक महीने तक जारी रहेगा और 23 मार्च को समाप्त होगा।

सिंह ने कहा कि लोग पार्टी कार्यालयों में पहुंचकर और रसीदें प्राप्त कर या मिस्ड कॉल देकर या हमारी वेबसाइट के माध्यम से नामांकन करके पार्टी के सदस्य बन सकते हैं। आप ने हालांकि, अभी तक यह तय नहीं किया है कि वह राज्य में 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी या नहीं। उन्होंने कहा, पार्टी को इस मुद्दे पर फैसला करना है। विधानसभा चुनाव के लिए अभी समय है।

इसे भी पढ़ें :- शाह से मुलाकात में शाहीन बाग पर चर्चा नहीं हुई: केजरीवाल

आप ने उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर प्रचार शुरू करने का भी फैसला किया है। राजनीति और विकास के आप मॉडल को दर्शाने वाले प्रत्येक जिले में 5,000 से अधिक पोस्टर और बैनर लगाए जाएंगे। पार्टी की उत्तर प्रदेश में 60 सक्रिय जिला-स्तरीय इकाइयां हैं और इसका उद्देश्य अन्य निर्वाचन क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति बढ़ाना है। पार्टी ग्रामीण इलाकों में धर्म और जातिवाद की राजनीति के खिलाफ विकास को गति देने की तैयारी कर रही है।

उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से कई आप नेता हैं, जो दिल्ली विधानसभा के लिए चुने गए हैं। उनमें मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, इमरान हुसैन आदि शामिल हैं। आप की योजना इन नेताओं को उनके गृहनगरों में सम्मानित करने की है और ‘केजरीवाल के विकास मॉडल’ के बारे में जागरूक करने की है। आप के वरिष्ठ नेता वैभव माहेश्वरी ने कहा, दिल्ली विधानसभा के नतीजों ने साबित कर दिया है कि ‘काम की राजनीति’ के आगे ‘नफरत की राजनीति’ नहीं चल पाएगी और उत्तर प्रदेश जल्द ही दिल्ली के राजनीति मॉडल का अनुसरण करेगा।

Latest News

Rajasthan में फिर टल सकता हैं मंत्रिमंडल में फेरबदल, अगस्त तक करना होगा इंतजार!
जयपुर | Rajasthan Cabinet Reshuffle: पंजाब की राजनीति में चल रही उठापटक को सुलझाने के बाद अब कांग्रेस आलाकमानों का पूरा फोकस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});