टैफे ने लांच किया मुफ्त ट्रैक्टर रेंटल प्लेटफॉर्म-'जेफार्म सर्विसेज'

नई दिल्ली। भारत के दूसरे सबसे बड़े ट्रैक्टर निर्माता-टैफे (ट्रैक्टर्स एंड फार्म इक्विपमेंट लिमिटेड) ने सोमवार को अपनी सी.एस.आर पहलकदमियों-'जेफार्म सर्विसेज' और 'जेफार्म सर्विसेज ऐप' के राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार की घोषणा कीै। इस नई पहलकदमी के साथ, टैफे भारतीय किसानों की आय को बढ़ावा देने के लिए टेक्नोलॉजी आधारित साझेदारी वाली अर्थव्यवस्था के लाभ प्रदान करता है। यह ऐप किसानों को ट्रैक्टर और आधुनिक कृषि मशीनरी लेने के लिए मुफ्त सुविधा प्रदान करता है। अपने मौजूदा ट्रैक्टर और कृषि उपकरण किराए पर देने वाले किसानों मुफ्त जेफार्म सर्विसेज ऐप के किसान-से-किसानमॉडल (एफ2एफ) के माध्यम से इन उपकरणों को किराये पर लेने के इच्छुक किसानों से सीधे मुफ्त में जोड़ दिया जाता है।

यह ऐप उनको किसान उद्यमियों से संपर्क करने, किराए की कीमतें तय करने और अपनी संबंधित आवश्यकताओं को पूरा करने में सक्षम बनाता है। जेफार्म सर्विसेज के शुरूआती पायलट योजना में मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और उत्तर प्रदेश हैं, जो लगभग 60,000 उपयोगकर्ताओं को सीधे लाभ पहुंचाता है और जिसके परिणामस्वरूप 100,000 से अधिक ऑर्डर हो चुके हैं, जिसमें किराए पर कृषि मशीनरी के उपयोग के लगभग 250,000 घंटे शामिल होते हैं।टैफे की चेयरमैन और सीईओ मल्लिका श्रीनिवासनने बताया, देश भर में कृषि उपकरण रेंटल प्लेटफॉर्म-जेफार्मसर्विसेज सामाजिक पहलकदमी है, जो विश्व में खेती को बढ़ावा देने के प्रतिटैफे के ²ष्टिकोण 'कल्टिवेटिंग द वल्र्ड' और भारतीय किसानों के आर्थिक कल्याण के प्रति हमारी प्रतिबद्धता से जुड़ी है। जेफार्म सर्विसेज प्लेटफॉर्म कृषि मशीनीकरण से सम्बंधित समाधानों तक, किराए के लिए मुफ्त, पहुंच प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी का अधिकतम उपयोग करता है और कृषि उत्पादकता और छोटे एवं सीमांत किसानों की आय बढ़ाने के साथ-साथ एक व्यावहारिक ग्रामीण उद्यमशीलता मॉडल बनाने का अवसर प्रदान करता है।

इस लांच का हमारा उद्देश्य उन लाखों किसानों तक पहुंचना है जिनकी पहुंच कृषि मशीनीकरण और आधुनिक तकनीक तक नहीं है, साथ ही, 2022 तक कृषि आय को दोगुनी करने के प्रधान मंत्री के ²ष्टिकोण को साकार करने में तेजी लाना है। टैफे के अध्यक्ष और सीओओ टीआर केसवन ने कहा, टैफे काजेफार्म सर्विसेज एक पारदर्शी किसान-से-किसान प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, जो किसी अ²श्य शुल्क या कमीशन से मुक्त है। जो सक्षम उद्यमियों को किसी भी ब्रांड के अपने मौजूदा ट्रैक्टर और उपकरणों को उन किसानों को किराए पर लेने में सक्षम बनाता है जो अपनी कृषि आय को बढ़ाने के लिए आधुनिक विशेषताओं वाले उत्पाद किराए पर लेना चाहते हैं।

जेफार्म सर्विसेज गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले छोटे और सीमांत किसानों के बीच कृषि मशीनीकरण बढ़ाने के उद्देश्य से अनुकूलित समाधान प्रदान करने के लिए विभिन्न राज्य सरकारों के साथ मिल कर कार्य कर रहा है।किसान टोल फ्री हेल्पलाइन 1800-4-200-100 पर फोन करके, स्थानीय कस्टम हायरिंग सेंटर से संपर्क करके या जेफार्म सर्विसेज एंड्रॉइड ऐप के माध्यम से उपकरण किराए पर ले सकते हैं।

323 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।