Corons Vaccine and Periods : क्या कोरोना वैक्सीन महिलाओं के मासिक धर्म पर कर सकती है असर..PIB और डॉक्टरों ने की इस बात की पुष्टि

Must Read

भारत में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है। जो लोगों को बड़ी जल्दी अपने चपेटे में ले रही है। एक दिन में कोरोना के 3 लाख 52 हजार मामले सामने आ रहे है। ऐसे कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ अफवाहों की भी कमी नहीं हो रही है। सोशल मीडिया पर इन दिनों कई अफवाह फैल रही है। कभी कोरोना वायरस के इलाज से जुड़ी कोई गलत जानकारी तो कभी ऑक्सीजन लेवर को घर पर ही बढ़ाने का घरेलू नुस्खा। अगर आप गूगल पर चेक करेंगे तो एक बार तो कोरोना की वैक्सीन बनाने का तरीका भी मिल ही जाएगा।  और अब कोरोना वैक्सीन को लेकर भी सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है जिसमें ये कहा जा रहा है कि कोविड-19 वैक्सीन महिलाओं के मासिक धर्म यानी पीरियड्स और फर्टिलिटी को प्रभावित करती है। इस दावे को डॉक्टर्स ने झूठा बताया है। PIB जो भारत सरकार की एक एजेंसी है  उसने भी इस बात को गलत बताया है। भारत सरकार ने 1 मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगने की घोषणा की है। तब से इस प्रकार की अफवाह उड़ रही है।

इसे भी पढ़ें Corona Update : देश में कोरोना से कोहराम! 24 घंटे में रिकॉर्ड 3.52 लाख केस, 2800 से ज्यादा मौतें, दुनियाभर के देशों ने बढ़ाए मदद के हाथ

PIB ने इन दावों को बताया फेक

भारत में 1 मई से 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया शुरू हो रही है। ऐसे में सोशल मीडिया पर इन दिनों कई पोस्ट वायरल हो रहे हैं जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि महिलाओं को अपने पीरियड्स से पांच दिन पहले और पांच दिन बाद तक कोरोना वैक्सीन नहीं लेनी चाहिए क्योंकि इस दौरान उनकी इम्यूनिटी बेहद कमजोर रहती है।इसके अलावा, ये भी कहा जा रहा है कि वैक्सीन शुरुआती दिनों में इम्यूनिटी कम करती है। हालांकि प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो PIB के फैक्ट चेक ने इन दावों को फेक बताते हुए कहा कि 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को 1 मई के बाद टीकाकरण करवाना चाहिए।

असामान्य पीरियड्स और कोरोना वैक्सीन के बीच कोई लिंक नहीं

न्यू यॉर्क टाइम्स से बात करते हुए येल स्कूल ऑफ मेडिसिन की डॉ रैन्डी हटर एप्स्टीन और ऐलिस लु-कुलिगन ने कहा कि अब तक ऐसा कोई डेटा नहीं मिला है जो कोरोना वैक्सीन और मासिक धर्म में होने वाले बदलाव के बीच किसी तरह के लिंक को स्थापित कर पाए। ट्विटर पर भी कई डॉक्टर महिलाओं से यही अपील कर रहे हैं कि असामान्य पीरियड्स और कोरोना वैक्सीन के बीच कोई लिंक नहीं है इसलिए अफवाहों पर ध्यान देने की बजाए 1 मई से सभी लोगों को वैक्सीन जरूर लेनी चाहिए।

सभी महिलाओं को बेफिक्र होकर वैक्सीन लेनी चाहिए

मुंबई के एक अस्पताल की गाइनैकॉलजिस्ट डॉ वैशाली जोशी कहती हैं कि कोरोना वैक्सीन का मासिक धर्म पर कोई असर नहीं पड़ता है कि कोविड-19 वैक्सीन पीरियड्स या उसके फ्लो को किसी भी तरह से प्रभावित करती है। इस बात के कोई सबूत मौजूद नहीं हैं।लिहाजा आपको अपने पीरियड्स की वजह से वैक्सीन डेट को रीशेड्यूल करने की जरूरत नहीं है। 18 साल से अधिक उम्र की सभी महिलाओं को वैक्सीन जरूर लेनी चाहिए। इसमें किसी भी तरह का कोई डर नहीं है। पीरियड्स में वैक्सीन आपको कोई नुकसान नहीं पहुचाएंगी।

इसे भी पढ़ें CM Ashok Gehlot का बड़ा फैसला, राजस्थान में 18 से अधिक आयु के लोगों को Free Corona Vaccine, खर्च होंगे 3000 करोड़

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

कैसा होगा ‘मोदी मंत्रिमंडल’ का फेरबदल?

बीजेपी हर हालत में उत्तर प्रदेश का चुनाव दोबारा जीतना चाहेगी। लिहाज़ा उत्तर प्रदेश से कुछ चेहरों को ख़ास...

More Articles Like This