Pet Registration Android App : पालतू जानवरों के मालिकों के लिए ऐप
देश | लाइफ स्टाइल| नया इंडिया| Pet Registration Android App : पालतू जानवरों के मालिकों के लिए ऐप

नोएडा प्राधिकरण ने पालतू जानवरों के मालिकों के लिए पेट पंजीकरण एंड्रॉइड ऐप लॉन्च किया

Pet Registration Android App

नोएडा |  क्षेत्र में पालतू जानवरों के मालिकों के कल्याण को बढ़ावा देने के लिए नोएडा प्राधिकरण ने पालतू जानवरों के मालिकों के लिए नोएडा पेट पंजीकरण एंड्रॉइड ऐप लॉन्च किया। इस ऐप के साथ यहां के निवासी भी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। अगर पालतू जानवर सार्वजनिक स्थानों पर कूड़ेदान करता है या व्यवधान पैदा करता है। लॉन्च इवेंट के बाद पत्रकारों से बात करते हुए सीईओ रितु माहेश्वरी ने कहा कि आज हम शहर में पालतू जानवरों के पंजीकरण के लिए एक मोबाइल ऐप लॉन्च करने के लिए यहां एकत्र हुए हैं। माहेश्वरी ने कहा कि पालतू मालिकों को अनिवार्य रूप से अपने पालतू जानवरों खासकर कुत्तों और बिल्लियों का सालाना पंजीकरण कराना होगा। ( Pet Registration Android App) नोएडा पालतू पंजीकरण ऐप का इस्तेमाल पंजीकरण और शुल्क भुगतान के लिए किया जा सकता है।

also read: पुलिस की नौकरी छोड़ सोशल मीडिया ‘सेलिब्रिटी’ बनीं Priyanka, रिवाल्वर वाले वीडियो के कारण आई थी चर्चा में …

पालतू जानवरों को खुले में शौच की अनुमति नहीं

कार्यक्रम में प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि पालतू जानवर के मालिक से कुत्ता पालने का लाइसेंस शुल्क 1000 रुपये प्रति वर्ष होगा। संबंधित प्राधिकरण से आधिकारिक लाइसेंस प्राप्त करने के बाद पालतू जानवरों के मालिक व्यक्तियों को पालतू जानवर के स्वामित्व के बारे में उसके स्वामित्व के 15 दिनों के भीतर सूचित करना होगा। मालिकों को किसी भी सार्वजनिक क्षेत्र जैसे पार्क, गली, सड़क आदि में कुत्ते को लावारिस नहीं छोड़ना चाहिए। साथ ही वे पालतू जानवरों को सड़कों, गलियों, पार्कों आदि में खुले में शौच करने की अनुमति नहीं देंगे।

इन नियमों का करना होगा पालन ( Pet Registration Android App)

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में या कहा गया है कि यह मालिक की जिम्मेदारी है कि पड़ोसी और कोई अन्य व्यक्ति परेशान न हो। पालतू या कुत्ते के रखरखाव और आराम के संबंध में समस्याएं हों। किसी भी फ्लैट घर में कुत्ते के प्रजनन केंद्र का संचालन प्रतिबंधित है। वाणिज्यिक \ बिक्री \ खरीद उद्देश्यों के लिए आवासीय क्षेत्र पड़ोसियों या किसी भी व्यक्ति को किसी भी तरह की गड़बड़ी से बचने के लिए। प्राधिकरण द्वारा आधिकारिक विज्ञप्ति में बताया गया है कि यदि पालतू जानवर का मालिक, जो स्थानीय प्राधिकरण को लाइसेंस शुल्क का भुगतान करने के लिए जिम्मेदार है, मर जाता है या पालतू जानवर को बेच देता है या किसी अन्य स्थान या व्यक्ति को पालतू जानवर को स्थानांतरित कर देता है, तो यह जानकारी प्रस्तुत की जानी चाहिए प्राधिकरण यानी लिखित प्रारूप में ऐसी गतिविधि के 15 दिनों के भीतर। ( Pet Registration Android App)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बड़ी देर से टूटी नींद!
बड़ी देर से टूटी नींद!