nayaindia संगीत के जादूगर की पहली ब्रीदलेस हनुमान चालीसा शेमारू भक्ति पर लॉन्च
kishori-yojna
लाइफ स्टाइल | धर्म कर्म| नया इंडिया| संगीत के जादूगर की पहली ब्रीदलेस हनुमान चालीसा शेमारू भक्ति पर लॉन्च

संगीत के जादूगर की पहली ब्रीदलेस हनुमान चालीसा शेमारू भक्ति पर लॉन्च

hanuman chalisha

Hanuman Chalisa : मशहूर प्लेबैक सिंगर और बेहतरीन कंपोजर शंकर महादेवन आज किसी भी परिचय के मोहताज नहीं हैं। उन्होंने सिंगिंग जगत में एक से बढ़कर एक गाने दिए हैं। शंकर महादेवन अब तक संगीत की दुनिया में कई अवॉर्ड्स जीत चुके हैं। लोग उनके संगीत के इस कदर दीवाने हैं कि उनके द्वारा कम्पोज किए या गाए गए हर एक गाने को बड़े ही चाव से सुनते हैं। इतना ही नहीं, न सिर्फ भारत में, बल्कि दुनिया भर में उनके संगीत को भरपूर प्यार मिला है।

इसे भी पढ़ें-  किसको मिलेगा करौली का माइलेज

Hanuman Chalisa : कई वर्षों पहले शंकर ने गायकी में एक अभिनव प्रयोग करते हुए बॉलीवुड में ब्रीदलेस कॉन्सेप्ट की नींव गढ़ी थी और एक एल्बम रिलीज़ की थी। यह एल्बम बहुत मशहूर हुई थी। अब उसी तर्ज पर शंकर महादेवन ने अपनी पहली ब्रीदलेस हनुमान चालीसा वीडियो के माध्यम से लॉन्च की है। उनके वीडियो को शेमारू भक्ति के अकाउंट से शेयर किया गया है, जो शेमारू भक्ति ने स्वदेसी मंच, कू के अपने आधिकारिक हैंडल के माध्यम से भी साझा की है, जिसमें कहा गया है:

जय श्री राम 🕉️ 😇 #HanumanJayantiSpecial गायक – शंकर महादेवन जी की आवाज़ में रामभक्त बजरंगबली को समर्पित हनुमान चालीसा (ब्रीदलेस) रिलीज़ हो चुकी है।


इस वीडियो में शंकर महादेवन बिना साँस लिए अद्भुत हनुमान चालीसा गाते नज़र आ रहे हैं। इसका स्टाइल काफी तेज रफ्तार में और कठिन जान पड़ रहा है। यह अनोखी हनुमान चालीसा शेमारू भक्ति के यू-ट्यूब चैनल पर भी स्ट्रीम की जाएगी।

कौन है शंकर महादेवन

Hanuman Chalisa : शंकर महादेवन एक भारतीय गायक है।अपनी बेहतरीन गायकी के कारण उन्हें चार बार राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार जिसमे तीन बार सर्वश्रेष्ठ पुरूष पार्श्व गायक के लिए और एक बार सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन के लिए दिया जा चुका है।शंकर महादेवन एक संगीत अकादमी भी चलाते है जो दुनियाभर के छात्रों को ऑनलाइन भारतीय संगीत सिखाता है।शंकर महादेवन प्रसिद्ध पटकथा लेखक जावेद अख्तर के साथ भी काम कर चुके है।

hanuman

बहुत कठिन होता है ब्रीदलेस गाना

संगीत के क्षेत्र में शंकर महादेवन का यह अनूठा प्रयोग काफी सफल रहा है लेकिन बिना सांस लिए लगातार गाना काफी कठिन होता है।इसके लिए हार्ड ट्रेनिंग और लम्बी प्रैक्टिस की जरूरत होती है।1998 में शंकर महादेवन की एक ब्रीदलेस अल्बम रिलीज हुई थी जिसमे वो तीन मिनट तक ब्रीदलेस गाते हुए नजर आते है।

इसे भी पढ़ें- हर्षल पटेल पर टूटा दुखों का पहाड़, बहन के जाने से बुरी तरह टूट गए

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + 18 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
एकनाथ शिंदे-देवेंद्र फडणवीस की अमित शाह के साथ अहम बैठक
एकनाथ शिंदे-देवेंद्र फडणवीस की अमित शाह के साथ अहम बैठक