nayaindia शरीर को खोल देंगे यह 5 योगासन, कभी नहीं होगा खतरा
लाइफस्टाइल/धर्म

शरीर को खोल देंगे यह 5 योगासन, कभी नहीं होगा खतरा

ByNI Desk,
Share
Image Credit: Times of India

दिल की बीमारी आज के समय में एक बड़ी समस्या बन गई हैं। साथ ही अनहेल्दी लाइफस्टाइल, खराब खानपान और तनाव दिल को कमजोर बनाते हैं। और धमनियों में रुकावट पैदा कर सकते हैं। लेकिन दिल को हेल्दी रखने के लिए कई उपाय हैं। जिनमें से एक हैं योग।

आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के खास मौके पर हम आपको कुछ आसान योगासन बता रहे हैं। जिन्हें आप अपने रूटीन में शामिल कर सकते हैं। और यह आसान योगासन न सिर्फ आपके दिल को हेल्दी रखेंगे। बल्कि साथ ही आपके ब्लड सर्कुलेशन को भी बेहतर बनाने के साथ तनाव को भी कम करेंगे।

ताड़ासन या पर्वतासन एक सरल खड़े रहने की पोज हैं। सीधे खड़े हो जाएं दोनों पैरों को कंधों के चौड़ाई पर रखें। और रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें, छाती को चौड़ा करके कंधों को नीचे की तरफ लाएं। इसके बाद कुछ देर गहरी सांस लें और छोड़ें।

वृक्षासन या पेड़ की पोज शरीर के संतुलन को बनाती हैं। और पैरों को मजबूत करती हैं। ताड़ासन में खड़े हों फिर धीरे-धीरे एक पैर को मोड़कर दूसरी जांघ पर टिकाएं। और हाथों को शरीर के ऊपर नमस्ते की पोज में लाएं। कुछ देर बैलेंस बनाकर रखें, फिर दूसरी तरफ भी यही दोहराएं।

अधोमुखश्वानासन या नीचे मुंह वाला कुत्ता आसन पूरे शरीर को मजबूत बनाता हैं।और ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता हैं। दोनों हाथों और घुटनों के बल टिके रहें। फिर घुटनों को उठाएं। इसके बाद एड़ियों को जमीन पर टिकाएं। और अपने शरीर को उल्टे V के आकार में लाएं। और कुछ देर इस अवस्था में रहने के बाद फिर वापस आ जाएं।

भुजंगासन या कोबरा आसन रीढ़ की हड्डी को लचकदार बनाता हैं। और सीने को खोलता हैं। पेट के बल लेट जाएं, माथे को जमीन से लगाएं। हाथों को कोहनी के पास जमीन पर टिकाएं। और ऊपरी शरीर को ऊपर उठाएं, जितना आराम से उठा सकें। सांस लेते हुए ऊपर उठें और छोड़ते हुए वापस आ जाएं।

बालासन या बच्चे की पोज शरीर को आराम देती हैं। और तनाव को कम करती हैं। घुटनों के बल बैठ जाएं और एड़ियों को नितंबों के पास लगाएं। इसके बाद माथे को जमीन से लगते हुए हाथों को शरीर के सामने फैला लें। और कुछ देर इस अवस्था में रहकर गहरी सांस लेते रहें।

इन आसनों को रोजाना 10-15 मिनट करने से दिल को हेल्दी रखने में मदद मिल सकती हैं। और हालांकि ये ध्यान रखना जरूरी हैं। किसी भी नया योगासन करने से पहले किसी योग ट्रेंनर से सलाह जरूर लें।

यह भी पढ़ें :-

पहाड़ों की बर्फीली चोटियों से समुद्र तक छाया योग

योग के रंग में रंगा मध्य प्रदेश

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें