Job Market News : कोरोना काल में आईटी सेक्टर में आई नौकरियों की बाढ़, इन कंपनियो ने दिया सुनहरा मौका - Naya India
लाइफ स्टाइल | यूथ करियर| नया इंडिया|

Job Market News : कोरोना काल में आईटी सेक्टर में आई नौकरियों की बाढ़, इन कंपनियो ने दिया सुनहरा मौका

लगभग पिछले साल से प्राइवेट नौकरी वालों की हालत खराब है। लॉकडाउन के कारण सभी प्राइवेट कंपनी बंद हो गयी थी। लेकिन प्राइवेट वालों के लिए अब खुशी का मौका है। कोरोना काल में जिन लोगों की नौकरियां चली गई है उनके पास अब बेहतरीन मौका है। 2020 के बाद अब 2021 में आईटी सेक्टर में नौकरियों की बहार आई हुई है। जहां एक तरफ देश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। देश की 5 टॉप आईटी कंपनी बंपर भर्ती कर रही है। भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर चल रही है जो पहली लहर से अत्यंत खतरनाक है। कोविड-19 के एक दिन में करीब 2 लाख मामले दर्ज हो रहे है। भारत के कुछ राज्यों में एक बार फिर से लॉकडाउन लग गया है। एक बार फिर से प्राइवेट कंपनियों में तालाबंदी हो गयी है। इसी बीच आईटी कंपनियों में नौकरियों की बहार आयी है।

इसे भी पढ़ें कोरोना काल में मदद के लिए आगे आया ABVP, जारी किए हेल्पलाइन नंबर

इन कंपनियों में मिलेगा मौका

नौकरी देने वाली कंपनियों में देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेज, इन्फोसिस और विप्रो शामिल हैं। आपको बता दें कि इस भयावह माहौल में इन कंपनियों को तलाश है ऐसी प्रतिभाओं की जो उनके विदेशों ग्राहकों के प्रोजेक्ट पर काम कर सकें और कंपनी का टर्न ओवर बढ़ा सके।

डिजीटल ग्राहक पर जोर

दरअसल इस समय में सारी कंपनी अपने डिजिटल ग्राहक पर जोर दे रही है। बताया जा रहा है कि टीसीएस इस साल कैंपस से 40,000 लोगों को भर्ती करने की तैयारी में है। तो वहीं, इन्फोसिस इस साल करीब 25,000 लोगों को ले सकती है। और विप्रो ने अब तक किसी तरह का खुलासा नहीं किया है लेकिन कंपनी ने कहा कि वह इस बार पिछले साल के मुकाबले ज्यादा लोगों को हायर करेगा।

इतने लोगों की होगी भर्ती

एनालिस्ट्स के मुताबिक, देश की 5 टॉप आईटी कंपनियां टीसीएस, इन्फोसिस, विप्रो, एचसीएल टेक्नोलॉजीज और टेक महिंद्रा इस साल 110,000 से ज्यादा लोगों को भर्ती करेंगी। इन कंपनियों ने पिछले साल 90,000 से अधिक लोगों को हायर किया था। बता दें किपिछले साल भी कोरोना के कहर ने लोगों को बेरोजगारी के मुंह में धकेल दिया था।

हायरिंग गतिविधियों में तेजी

स्पेशलिस्ट स्टाफिंग एजेंसी Xpheno के को-फाउंडर कमल करंत के मुताबिक, नया वित्त वर्ष हायरिंग गतिविधियों में तेजी के साथ शुरू हुआ है। हायर प्रोजेक्टेड एट्रीशन, फ्रेशर हायरिंग प्लान और आईटी खर्च की वापसी से हायरिंग एक्टिविटीज में 20 फीसदी तक तेजी देखी जा सकती है।

इसे भी पढ़ें इस राज्य के CM ने रुस से मंगाया हेलीकॉप्टर, कांग्रेस ने उठाए सवाल

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मध्य प्रदेश में शराब की दुकानों में दूसरी COVID वैक्सीन लेने वालों के लिए 10% की छूट
मध्य प्रदेश में शराब की दुकानों में दूसरी COVID वैक्सीन लेने वालों के लिए 10% की छूट