• डाउनलोड ऐप
Saturday, April 17, 2021
No menu items!
spot_img

क्या है बेफिक्री का राज

Must Read

बहुत से लोगों को इस पर हैरत हो सकती है कि आखिर कोई सरकार इतनी बेफिक्र कैसे हो सकती है? आखिर पेट्रोल- डीजल- रसोई गैस की कीमतें कभी इस देश में बेहद संवेदनशील मुद्दा होती थीं। इसकी कीमतों से सरकारों के भविष्य पर फर्क पड़ता था। लेकिन केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार लगातार कीमतें बढ़ाए जा रही है और उसके ललाट पर कोई शिकन नहीं दिखती। इसकी तीन वजहें समझी जा सकती हैं। पहली तो यह कि सरकार को अपने प्रचारतंत्र पर इतना भरोसा है कि चाहे लोगों की मुसीबत कितनी भी बढ़े उससे उसके समर्थक तबकों पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। यानी गंजे को भी कंघी बेचने की उसकी कला बेदाग बची हुई है। दूसरी, यह कि उसने इस देश में जो राजनीतिक अर्थव्यवस्था बनाई है, उसकी मजबूती पर उसे यकीन है।

इस राजनीतिक अर्थव्यवस्था का सार सांप्रदायिक भावनाओं और क्रोनी कैपिटलिज्म का समन्वय है। उपरोक्त दोनों बातें भी किसी लोकतंत्र और देश की सामाजिक सेहत के लिए चिंताजनक होंगी, लेकिन तीसरी बात कहीं अधिक खतरनाक है। वो यह कि मुमकिन है सरकार सचमुच पेट्रोलियम पदार्थों के दाम इस हद तक बढ़ाना ना चाहती हो। लेकिन उसे बढ़ाना पड़ रहा हो, क्योंकि उसका खजाना खाली हो गया है। ऐसे में पेट्रोलियम पदार्थों के टैक्स से भी आमदनी घट गई तो देश कंगाली की तरफ बढ़ जाएगा। इनके अलावा भी कोई बात हो सकती है, यह समझना मुश्किल है।

तो तेल कंपनियों ने रसोई गैस सिलेंडर की कीमत पिछले पांच दिन में दो बार बढ़ा दी। सब्सिडी और गैर-सब्सिडी दोनों तरह के रसोई गैस की कीमतों वृद्धि की गई है। सोमवार से 25 रुपये प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी लागू हो चुकी है। अब दिल्ली में 14.2 किलोग्राम के सिलेंडर की कीमत 819 रुपये हो गई है। कमर्शियल गैस सिलिंडर की कीमतों में 19 रुपये का इजाफा हुआ है। इससे कमर्शियल गैस सिलिंडर की कीमत दिल्ली में अब इसकी कीमत 1,614 रुपये हो गई है। इस गैस सिलिंडर की कीमत 1,563.50 रुपये, चेन्नई में 1,730.50 रुपये और कोलकाता में 1,681.50 रुपये हो गई है। क्या यह भी हैरतअंगेज नहीं है कि ये दाम तब बढ़ाए जा रहे हैं, जब पांच राज्यों में चुनाव की बिसात बिछ चुकी है। ऐसे में दाम बढ़ाना या तो खुद पर अति भरोसे का ही परिणाम हो सकता है, या फिर ऐसी मजबूरी जिसमें सब कुछ दांव पर लगा देने के अलावा कोई और चारा नहीं बचता।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

Report :  देश में नहीं उठाए गये सख्त कदम तो जून तक प्रतिदिन होगी 2,320 मौतें

New Delhi: देश में कोरोना का एक बार फिर से कहर बरसा रहा है. कोरोना की ये दूसरी लहर...

More Articles Like This