nayaindia Free Ration Scheme पांच साल तक मिलेगा पांच किलो अनाज
Trending

पांच साल तक मिलेगा पांच किलो अनाज

ByNI Desk,
Share

दुर्ग (छत्तीसगढ़)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले बड़ी घोषणा की है। छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने पांच किलो अनाज की योजना को पांच साल तक के लिए बढ़ाने का ऐलान किया है। ध्यान रहे यह योजना कोरोना वायरस की महामारी के दौरान मार्च 2020 में घोषित हुई थी और समय समय पर इसकी अवधि बढ़ाई जाती थी। पिछली बार इसकी अवधि 31 दिसंबर 2023 तक बढ़ाई गई थी। लेकिन इस बार प्रधानमंत्री ने सीधे पांच साल तक इसे जारी रखने का ऐलान किया है।

पांच राज्य में हो रहे विधानसभा चुनाव के लिहाज से यह भाजपा का बड़ा दांव है। हालांकि यह आचार संहिता का मामला हो सकता है क्योंकि केंद्र सरकार की इतनी बड़ी योजना की समयावधि बढ़ाने की घोषणा चुनावी सभा में की गई है। गौरतलब है कि इस योजना का लाभ देश के 80 करोड़ लोगों को मिलता है। इस योजना के तहत सरकार 80 करोड़ लोगों को पांच किलो गेहूं या पांच किलो चावल मुफ्त में देती है। इस बड़ी योजना पर डेढ़ लाख करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होते हैं।

बहरहाल, प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा की चुनावी रैली में राज्य की कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए और कहा कि राज्य में भाजपा की सरकार बनने पर सभी घोटालों की जांच होगी और दोषियों को जेल भेजा जाएगा। उन्होंने राज्य की भूपेश बघेल सरकार पर साढ़े नौ हजार करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगाया। प्रधानमंत्री ने कहा- चहेतों को नौकरी देने के लिए यहां पीएससी घोटाला हुआ।

ऑनलाइन सट्टेबाजी के आरोपों से घिरी कंपनी महादेव ऐप का जिक्र करते हुए मोदी ने मुख्यमंत्री बघेल पर निशाना साधा और कहा- कांग्रेस ने महादेव के नाम को भी नहीं छोड़ा। दुबई में बैठे सट्‌टेबाजों के करोड़ों रुपए जब ईडी ने पकड़े तो यहां के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आखिर क्यों बौखला गए? इन घोटालेबाजों के साथ उनके क्या संबंध हैं? बघेल को निशाना बनाते हुए मोदी ने कहा- आप यहां सरकारी दफ्तरों में जाते हैं तो एक ही बात बोलते हैं- 30 टका कक्का, आपका काम पक्का। कांग्रेस की हर घोषणा में 30 टके का खेल पक्का है। इस सरकार से छत्तीसगढ़ छुटकारा चाहता है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में ईडी की कार्रवाई में पांच करोड़ रुपए से ज्यादा नकद पकड़े गए हैं और ईडी ने दावा किया है कि महादेव ऐप के एक कर्मचारी ने मुख्यमंत्री बघेल को 508 करोड़ रुपए देने की बात कही है। हालांकि बघेल ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि भाजपा चुनाव हार रही है तो ईडी का सहारा लेकर अनर्गल आरोप लगा रही है। शनिवार को दुर्ग की चुनावी सभा में प्रधानमंत्री मोदी ने ईडी के आरोपों को दोहराया। हालांकि उन्होंने बघेल का नाम नहीं लिया लेकिन कहा कि सट्टेबाजों का पैसा सरकार में ऊपर तक जाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें