nayaindia heavy rain in odisha : भुवनेश्वर में 87 वर्षों का रिकॉर्ड टूटा
kishori-yojna
ओडिसा| नया इंडिया| heavy rain in odisha : भुवनेश्वर में 87 वर्षों का रिकॉर्ड टूटा

ओडिशा में भारी बारिश से 12 जिलों में स्कूल बंद रहेंगे, भुवनेश्वर में 87 वर्षों का रिकॉर्ड टूटा

ओडिशा |  स्कूल और जन शिक्षा मंत्री समीर रंजन दाश ने सूचित किया कि ओडिशा के 12 जिलों के सभी स्कूल दो दिनों के लिए बंद रहेंगे जहां बंगाल की खाड़ी के ऊपर दबाव के कारण भारी बारिश को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया गया है। देश के कुछ राज्यों में बारिश के हालात बिगड़े हुये है। भुवनेश्वर आईएमडी के वैज्ञानिक उमा शंकर दास ने कहा कि राजधानी शहर भुवनेश्वर में 87 वर्षों का वर्षा रिकॉर्ड टूट गया। हमने पहले इतनी भारी बारिश नहीं देखी थी। पिछले 24 घंटों के दौरान भुवनेश्वर में 195 मिमी बारिश दर्ज की गई है। ( heavy rain in odisha)

also read: क्या ई-वाहन से करंट लगने का खतरा हो सकता है, जानें विशेषज्ञों की राय

बारिश के कारण 12 जिलों में स्कूलों बंद

सुरक्षा की दृष्टि से ओडिशा सरकार ने 12 जिलों में स्कूलों को बंद करने का फैसला किया है। अगर स्थिति बनी रहती है तो हम बाद में योजनाओं के बारे में बताएंगे। 12 जिले पुरी, खुर्दा, कटक, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, ढेंकनाल, नयागढ़, संबलपुर, देवगढ़, अंगुल, सोनपुर और बरगढ़ हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि बंगाल की खाड़ी और उससे सटे ओडिशा तट पर दबाव गहरा कर गहरे दबाव में तब्दील हो गया और आज सुबह तड़के चांदबली के पास तट को पार कर गया।

ये रहा बारिश का आंकड़ा ( heavy rain in odisha)

उमा शंकर दास ने कहा कि शहर में पहले 9 सितंबर 1985 को 163 मिमी, 1 सितंबर 2014 को 116 मिमी और 25 सितंबर 2019 को 126 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। आईएमडी भुवनेश्वर ने लोगों को घर में रहने की सलाह दी है। भुवनेश्वर समेत अगले 48 घंटों तक बारिश जारी रहेगी। यहां क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार पुरी में पिछले 24 घंटों के दौरान सबसे अधिक 341 मिमी बारिश हुई। इसी तरह राज्य के अन्य क्षेत्रों में पिछले 24 घंटों के दौरान तीव्र वर्षा हुई है। पारादीप (219 मिमी), चांदबली (46 मिमी), गोपालपुर (64 मिमी) और बालासोर (24 मिमी)। ( heavy rain in odisha)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + 2 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अनुसूची में दर्ज भाषाओं में सुप्रीम कोर्ट का फैसला
अनुसूची में दर्ज भाषाओं में सुप्रीम कोर्ट का फैसला