राजनीति| नया इंडिया| presidential election female president इस बार क्या महिला राष्ट्रपति?

इस बार क्या महिला राष्ट्रपति?

president house

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर जगह महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने की बात करते हैं लेकिन राजभवनों में महिलाओं की संख्या लगातार कम होती जा रही है और किसी भाजपा शासित राज्य में महिला मुख्यमंत्री नहीं है। पिछले दिनों सरकार की सिफारिश पर 10 राज्यों में राज्यपाल नियुक्त किए गए हैं, जिनमें से एक भी महिला नहीं थी। तभी यह अटकल लगाई जा रही है कि अगले साल कोई महिला राष्ट्रपति बन सकती है। यह भी कहा जा रहा है कि राष्ट्रपति नहीं तो उप राष्ट्रपति किसी महिला को बनाया जा सकता है। गौरतलब है कि अगले साल जुलाई में राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति के चुनाव होने वाले हैं। presidential election female president

Read also अमीरी और गरीबी की खाई

अभी राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति के चुनाव में 10 महीने का समय है। लेकिन एक के बाद एक राजभवनों से महिलाओं की विदाई की बाद इसकी अटकलें लगने लगी हैं। भाजपा मुख्यालय में भी उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बने पटेल को राष्ट्रपति बनाए जाने की चर्चा सुनने को मिली लेकिन इसमें मुश्किल यह है कि प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति दोनों एक ही राज्य के होंगे तो उसका मैसेज खराब जाएगा। इसलिए उनका राष्ट्रपति बनना संभव नहीं है।

एक दूर की कौड़ी निर्मला सीतारमण के नाम की है। वे अगले साल 63 साल की होंगी। उन्हें अगर राष्ट्रपति भवन भेजा जाता है, उससे कई मकसद पूरे होंगे। वे दक्षिण भारत की हैं और ब्राह्मण हैं। इससे भाजपा को कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले पार्टी के लिए माहौल बनाने में मदद मिलेगी। ध्यान रहे 2007 में कांग्रेस ने प्रतिभा पाटिल को राष्ट्रपति बनाया था और दो साल बाद हुए चुनाव में ज्यादा बड़े बहुमत से जीती थी। बहरहाल, चुनाव से पहले कोई नया और चौंकाने वाला नाम भी आ सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

विदेश

खेल की दुनिया

फिल्मी दुनिया

लाइफ स्टाइल

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
MP के भिंड में भारतीय वायुसेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त, विमान से कुछ दूर घायल अवस्था में मिला पायलट