सीएम के चेहरे पर दोहरा रवैया - Naya India
राजनीति| नया इंडिया|

सीएम के चेहरे पर दोहरा रवैया

भारतीय जनता पार्टी रणनीतिक मसलों पर सुविधा के सिद्धांत से काम करती है। राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने मुख्यमंत्री पद का दावेदार नहीं पेश किया तो भाजपा के नेताओं ने कांग्रेस का जीना हराम किया हुआ था। भाजपा के हर नेता ने कांग्रेस से यहीं सवाल पूछा कि बारात तो तैयार पर दूल्हा कौन है। भाजपा के नेता कांग्रेस को चुनौती देते रहे कि वे मुख्यमंत्री का चेहरा प्रोजेक्ट करें। चूंकि इन तीनों राज्यों में भाजपा अपने मुख्यमंत्रियों के चेहरे पर लड़ रही थी इसलिए कांग्रेस के ऊपर भी मुख्यमंत्री का चेहरा पेश करने की चुनौती डाल दी थी।

पर दिल्ली में भाजपा बिना सीएम का चेहरा पेश किए लड़ रही है इसलिए यहां दूसरा सिद्धांत दे रही है। दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा को चुनौती दी है कि वह मुख्यमंत्री का चेहरा बताए वे उसके साथ बहस करने को तैयार हैं। जब केजरीवाल ने यह चुनौती पेश की तो केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि भाजपा का मुख्यमंत्री का चेहरा दिल्ली का हर एक मतदाता है। उन्होंन पूरा सिद्धांत ही पलट दिया। वे अब कह रहे हैं कि भाजपा का मुख्यमंत्री चुनना दिल्ली की जनता के हाथों में है। पर अरविंद केजरीवाल भी इस मुद्दे के आसानी से छोड़ने वाले नहीं हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});