auto company left india भारत छोड़ रही विदेशी मोटर कंपनियां?
राजनीति| नया इंडिया| auto company left india भारत छोड़ रही विदेशी मोटर कंपनियां?

भारत छोड़ रही विदेशी मोटर कंपनियां?

ford

एक और विदेशी ऑटोमोबाइल कंपनी ने भारत छोड़ने का ऐलान कर दिया। अमेरिका की फोर्ड कंपनी ने कहा है कि वह अपने दोनों प्लांट बंद करेगी और सिर्फ आयातित गाड़ियां ही बेचेगी। इससे पहले भाजपा सरकार के मौजूदा कार्यकाल में हार्ले डेविडसन ने अपना कामकाज समेट लिया था और पिछले कार्यकाल में अमेरिका की ही एक और कंपनी जेनरल मोटर्स ने अपना कामकाज बंद कर दिया था। सवाल है कि क्या भारत में ऑटोमोबाइल कंपनियों का भविष्य नहीं, कारोबार की संभावना नहीं है, इसलिए ये कंपनियां देश छोड़ रही हैं या इन कंपनियों ने देश ऑटोमोबाइल बाजार का आकलन गलत कर लिया था, जिसकी वजह से नुकसान उठाना पड़ा और इसलिए ये कंपनियां देश छोड़ रही हैं? (auto company left india)

Read also अब भारत विरोध मतलब हिंदूफोबिया!

वैसे कोरोना वायरस की महामारी के कारण कार बाजार में मंदी रही है फिर भी हालात सुधरने पर मारूति-सुजुकी, टाटा, महिंद्रा, टोयोटा, होंडा, हुंडई आदि गाड़ियों का बाजार सुधरा है। इनकी बिक्री बढ़ी है। भारत की घरेलू कंपनियों के साथ साथ जापान और दक्षिण कोरिया की कंपनियां ठीक कारोबार कर रही हैं, जबकि अमेरिकी और जर्मन कंपनियों का कारोबार अच्छा नहीं रहा है। इस बीच चीन की कंपनी के भारत के ऑटोमोबाइल सेक्टर में आने से हालात बदलने की संभावना है। कीमत को लेकर नई जंग छिड़ सकती है। बहरहाल, कहां तो कहा जा रहा था कि कारोबार सुगमता में भारत की स्थिति सुधर रही है और कोरोना के बाद चीन छोड़ कर एक हजार विदेशी कंपनियां भारत आएंगी। लेकिन इसका उलटा हो रहा है। भारत से विदेशी कंपनियां वापस जा रही हैं। यह तथ्य है कि चीन छोड़ कर एक भी विदेशी कंपनी अभी भारत नहीं आई है, जबकि जापान की 16 कंपनियां बांग्लादेश पहुंच गई हैं। auto company left india

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
किसान संगठनों को बदनाम करने के उपाय
किसान संगठनों को बदनाम करने के उपाय