nayaindia Bharat jodo yatra Rahul gandhi यात्रा में सहयोगियों का साथ
kishori-yojna
राजरंग| नया इंडिया| Bharat jodo yatra Rahul gandhi यात्रा में सहयोगियों का साथ

यात्रा में सहयोगियों का साथ

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में सहयोगी पार्टियां खुल कर साथ दे रही हैं। राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही यात्रा जिन राज्यों से गुजरी वहां की सहयोगी पार्टियों ने तो साथ दिया ही लेकिन जहां यात्रा नहीं जा रही है वहां की सहयोगी पार्टियों के नेता भी यात्रा में शामिल हो रहे हैं। पहले ऐसा लग रहा था कि जिन राज्यों में यात्रा नहीं जाएगी वहां की यूपीए की सहयोगी पार्टियां यात्रा को सिर्फ नैतिक समर्थन देंगी। लेकिन जैसे जैसे भारत जोड़ो यात्रा आगे बढ़ी और इसे रिस्पांस मिला उसके बाद लगता है कि सहयोगी पार्टियों की राय बदली और उन्होंने यात्रा के खुला समर्थन देने का फैसला किया।

कांग्रेस की एक बड़ी सहयोगी पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा ने अपने नेता को यात्रा में शामिल होने के लिए भेजा। ध्यान रहे भारत जोड़ो यात्रा झारखंड नहीं जा रही है। इसलिए झारखंड कांग्रेस के नेता यात्रा में शामिल होने के लिए मध्य प्रदेश पहुंचे थे। उसी समय कांग्रेस की सहयोगी जेएमएम ने अपने वरिष्ठ नेता और राज्य सरकार के मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर को यात्रा में शामिल होने के लिए भेजा। यात्रा से अलग राहुल गांधी ने झारखंड कांग्रेस और जेएमएम के नेताओं के साथ तस्वीर खिंचवाई और उसे सोशल मीडिया में जारी किया गया। गौरतलब है कि झारखंड में कांग्रेस के समर्थन से जेएमएम की सरकार है और हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री हैं।

इसी तरह कांग्रेस की यात्रा गोवा भी नहीं जा रही है लेकिन गोवा में कांग्रेस की सहयोगी गोवा फॉरवर्ड पार्टी के प्रमुख विजय सरदेसाई ने मध्य प्रदेश में यात्रा ज्वाइन की। उनके साथ पार्टी के कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए और उन्होंने राहुल की यात्रा की जम कर तारीफ की। ध्यान रहे गोवा फॉरवर्ड पार्टी पहले भाजपा की सहयोगी थी। लेकिन पिछले चुनाव से पहले भाजपा द्वारा पार्टी तोड़े जाने से नाराज सरदेसाई ने कांग्रेस के साथ तालमेल कर लिया था।

बहरहाल, जिन राज्यों से कांग्रेस की यात्रा गुजरी वहां की सहयोगी पार्टियों के नेता यात्रा में शामिल हुए और राहुल के साथ पैदल चले। तमिलनाडु के कन्याकुमार से यात्रा शुरू हुई थी तो राज्य में सत्तारूढ़ डीएमके के नेता और मुख्यमंत्री एमके स्टालिन कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उसके बाद केरल में भी कांग्रेस की सहयोगी पार्टियों के नेता यात्रा में शामिल हुए। कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में कांग्रेस के पास कोई सहयोगी नहीं है। लेकिन यात्रा जब महाराष्ट्र पहुंची तो शुरुआती अगर मगर के बाद दोनों सहयोगी पार्टियों के नेता यात्रा में शामिल हुए। एनसीपी की ओर से पार्टी के सुप्रीमो शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले सहित कई बड़े नेता शामिल हुए। शिव सेना की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे और राज्य सरकार के पूर्व मंत्री आदित्य ठाकरे ने यात्रा में हिस्सा लिया। सुप्रिया सुले तो महाराष्ट्र में हुई कांग्रेस की रैली में भी शामिल हुईं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 + nine =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अपने इर्दगिर्द की ख़बर देती फ़िल्में
अपने इर्दगिर्द की ख़बर देती फ़िल्में