Karnataka bs yediyurappa BJP भाजपा का येदियुरप्पा पर भरोसा
राजनीति| नया इंडिया| Karnataka bs yediyurappa BJP भाजपा का येदियुरप्पा पर भरोसा

भाजपा का येदियुरप्पा पर भरोसा

bs yediyurappa

Karnataka bs yediyurappa BJP भारतीय जनता पार्टी कर्नाटक में स्थानीय निकायों के चुनाव की तैयारी में लग गई है। अदालत के आदेश पर हुबली-धारवाड़, बेलगावी और कलबुर्गी में शहरी निकायों के चुनाव की घोषणा हो गई है। इन तीन शहरों की जिला पंचायत और तालुका पंचायत की दो सौ से ज्यादा सीटों के अलावा अलग अलग जिलों में कोई 40 सीटों के लिए चुनाव होने वाले हैं। इस चुनाव से पहले राज्य के प्रभारी महासचिव अरुण सिंह ने कहा है कि भाजपा जेडीएस के साथ कोई तालमेल नहीं करेगी। उन्होंने 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव में बिना किसी तालमेल के अकेले सरकार बनाने का दावा किया है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों भाजपा ने मुख्यमंत्री बदला है। बीएस येदियुरप्पा की जगह बासवराज बोम्मई को मुख्यमंत्री बनाया गया है। यह बतौर मुख्यमंत्री उनकी पहली बड़ी परीक्षा है। वे लिंगायत समुदाय से आते हैं और जिन इलाकों में चुनाव होने वाले हैं वहां लिंगायत बड़ी संख्या में हैं। इन इलाकों से बोम्मई की सरकार में आठ मंत्री हैं। फिर भी भाजपा का भरोसा बीएस येदियुरप्पा पर है। येदियुरप्पा ने भी कहा है कि वे पूरे राज्य का दौरा करेंगे और फिर से भाजपा की सरकार बनवाने के लिए काम करेंगे। लिंगायत मुख्यमंत्री और येदियुरप्पा के भरोसे के दम पर ही भाजपा गठबंधन की संभावना को खारिज कर रही है। हालांकि पार्टी ने उनके बेटे को राज्य सरकार में मंत्री नहीं बनाया है, जिससे येदियुरप्पा समर्थक नाराज हैं।

Read only धन सिंह रावत का अद्भुत ज्ञान!

यह तय है कि स्थानीय निकाय चुनावों में अगर भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया तो वह अकेले ही लड़ेगी और तब संभव है कि कांग्रेस और जेडीएस एक दूसरे के करीब आएं। अभी तो कांग्रेस और जेडीएस भी अकेले ही लड़ेंगे। वैसे कांग्रेस और जेडीएस दोनों के नेता सितंबर में होने वाले स्थानीय निकाय चुनावों में जीतने की उम्मीद नहीं कर रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
देश में एक दिन में 42 हजार पार पहुंचे नए मामले, केरल बन रहा चुनौती, तीसरी लहर की आशंका
देश में एक दिन में 42 हजार पार पहुंचे नए मामले, केरल बन रहा चुनौती, तीसरी लहर की आशंका