भाजपा के मंत्रियों की पूछ नहीं

बिहार में भारतीय जनता पार्टी के मंत्री भाजपा के नेता इस बात से भी नाराज हैं कि पार्टी के मंत्रियों के हाथ में कोई अधिकार नहीं दिया गया है। सुशील मोदी और नंद किशोर यादव को छोड़ कर सारे मंत्रियों के काम उनके प्रधान सचिव या विभागीय सचिव करते हैं और उनको सीधा निर्देश सीएम हाउस से आता है। पार्टी के कद्दावर नेता मंगल पांडेय राज्य के स्वास्थ्य सचिव हैं पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कोरोना वायरस के संकट के बीच तीन बार स्वास्थ्य विभाग का प्रधान सचिव बदल चुके हैं।

पहले संजय कुमार स्वास्थ्य सचिव थे, जिन्हें हटा कर नीतीश कुमार ने उदय सिंह कुमावत को सचिव बनाया और अब कुमावत को हटा कर प्रत्यय अमृत को स्वास्थ्य विभाग का जिम्मा दिया है। ध्यान रहे प्रत्यय अमृत के पास पहले से ऊर्जा और आपदा प्रबंधन का विभाग है। भाजपा के एक जानकार नेता ने बताया कि नीतीश कुमार ने मंत्रियों की एक बैठक में सार्वजनिक रूप से मंगल पांडेय के ऊपर टिप्पणी की और उनसे कहा कि ‘ऐसे नहीं चलेगा’। ध्यान रहे मंगल पांडेय पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रहे हैं और हिमाचल प्रदेश में भाजपा ने उनको प्रभारी बनाया था। भाजपा नेता उनके कथित अपमान से आहत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares