राज्यसभा की होड़ में संगठन के नेता - Naya India
राजनीति| नया इंडिया|

राज्यसभा की होड़ में संगठन के नेता

भारतीय जनता पार्टी के संगठन में शामिल ज्यादातर लोग किसी न किसी सदन के सदस्य हैं। जो संसद के किसी सदन में नहीं हैं वे अपने अपने राज्य की विधानसभाओं के सदस्य हैं। जो नेता किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं वे इस बार राज्यसभा की होड़ में हैं। हर बार की तरह इस बार राज्यसभा के दोवार्षिक चुनावों से पहले राम माधव के राज्यसभा में जाने की चर्चा है। राम माधव और कैलाश विजयवर्गीय ये दो ही राष्ट्रीय महासचिव हैं, जो किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं। वैसे पिछले चुनाव में कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को पार्टी ने टिकट दिया था और वे मध्य प्रदेश विधानसभा के सदस्य हैं। फिर भी इस बार राम माधव के साथ उनके नाम की भी चर्चा है।

महासचिवों के बाद पार्टी के दो उपाध्यक्षों के राज्यसभा जाने की चर्चा पिछले कुछ दिनों से पार्टी हलके में चल रही है। कहा जा रहा है कि बरसों से पार्टी कार्यालय से जुड़े श्याम जाजू को पार्टी राज्यसभा में भेज सकती है। पिछले लोकसभा चुनाव से ठीक पहले बीजू जनता दल छोड़ कर भाजपा में आए बैजयंत जय पांडा भी राज्यसभा के लिए जोर लगा रहे हैं। पर कहा जा रहा है कि ओड़िशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की संवेदनशीलता को देखते हुए भाजपा उनका नाम आगे नहीं कर रही है।

इसके अलावा पार्टी के कई प्रवक्ता इस बार राज्यसभा की उम्मीद लगाए बैठे हैं। 2014 में हार गए और 2019 में टिकट से वंचित रह गए पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन इस बार राज्यसभा भेजे जा सकते हैं। पिछले दिनों पार्टी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को राज्यसभा में भेजा। दो प्रवक्ता- अनिल बलूनी और जीवीएल नरसिंह राव पहले से राज्यसभा में हैं तो राजीव प्रताप रूड़ी लोकसभा सदस्य हैं। शाहनवाज के अलावा बाकी तीन प्रवक्ता- नलिन कोहली, संबित पात्रा और विजय सोनकर शास्त्री भी किसी न किसी जुगाड़ में हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow