क्या संजय सिंह को मौका मिलेगा! - Naya India
राजनीति| नया इंडिया|

क्या संजय सिंह को मौका मिलेगा!

राज्यसभा में विपक्ष की संख्या घटाने और अपनी संख्या बढ़ाने की रणनीति के तहत भारतीय जनता पार्टी ने कई पार्टियों के राज्यसभा सांसदों का इस्तीफा कराया था। उसमें टीडीपी के सांसद थे, सपा के सांसद थे तो कांग्रेस के भी सांसद थे। असम से कांग्रेस के दो सांसदों भुवनेश्वर कलीता और संजय सिंह ने इस्तीफा दे दिया था और भाजपा में शामिल हो गए थे। भुवनेश्वर कलीता को तो भाजपा ने असम से ही राज्यसभा में भेज दिया पर संजय सिंह अभी इंतजार कर रहे हैं। इस बार कहा जा रहा है कि उनको उत्तर प्रदेश से मौका मिल सकता है।

ध्यान रहे संजय सिंह अमेठी के राजा हैं, जहां से राहुल गांधी सांसद होते थे। पिछली बार स्मृति ईरानी ने उनको चुनाव हरा दिया। पिछले दिनों अमेठी की विधायक अदिति सिंह भी कांग्रेस से अलग हो गई हैं। बहरहाल, संजय सिंह कांग्रेस में थे और उनकी पहली पत्नी व बेटा भाजपा के साथ चले गए थे। अब संजय सिंह भी भाजपा में आ गए हैँ। मुश्किल यह है कि भाजपा अपने कोटे की आठ या नौ सीटों में से कितने राजपूत नेताओं को राज्यसभा भेज सकती है? नीरज शेखर भी राजपूत हैं और उनका उच्च सदन में जाना तय माना जा रहा है।

अरुण सिंह पार्टी के महासचिव हैं और कार्यालय के प्रभारी हैं। वे भी राजपूत हैं और उनको भी भाजपा राज्यसभा जरूर भेजेगी। तभी कहा जा रहा है कि तीसरा राजपूत उम्मीदवार भेजने का गलत मैसेज जाएगा। राज्य में राजपूत मुख्यमंत्री होने की वजह से पहले से राज्य में जातियों का अलग तरह से ध्रुवीकरण हो रहा है। अगर भाजपा उनको भी इस बार राज्यसभा भेजने का फैसला करती है तो यह बहुत साहसी फैसला होगा। एक सीट हरदीप सिंह पुरी को जाएगी। उसके बाद भाजपा के पास चार या पांच सीटें बचेंगी बाकी सारी जातियों को एडजस्ट करने के लिए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow