राजनीति| नया इंडिया| BJP candidates chief ministers भाजपा के सीएम दावेदार घोषित

भाजपा के सीएम दावेदार घोषित!

bjp

BJP candidates chief ministers अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा ज्यादातर राज्यों में मुख्यमंत्रियों के दावेदार घोषित करके चुनाव लड़ेगी। सिर्फ पंजाब इसका अपवाद हो सकता है। हालांकि पार्टी ने वहां भी यह ऐलान कर दिया है कि भाजपा की सरकार बनेगी तो कोई दलित मुख्यमंत्री बनेगा। इस घोषणा से ठीक पहले पार्टी ने पंजाब भाजपा के नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय सांपला को राष्ट्रीय अनुसूचित आयोग का अध्यक्ष नियुक्त कर दिया, जिससे अपने आप यह मैसेज बना कि भाजपा का दलित मुख्यमंत्री सांपला हो सकते हैं।

Read also राहुल के खिलाफ कैसे कैसे तर्क

बहरहाल, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा गोवा के दो दिन के दौरे पर गए थे और उन्होंने ऐलान कर दिया कि गोवा में पार्टी मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के चेहरे पर लड़ेगी। इस तरह उन्होंने सांवत को सीएम दावेदार घोषित कर दिया। ध्यान रहे सावंत को मनोहर पर्रिकर की जगह मुख्यमंत्री बनाया गया था। उन्होंने जोड़-तोड़ की कमाल की राजनीति दिखाई और पार्टी के पुराने सहयोगियों को भी निपटा दिया। वे युवा हैं और इसलिए नई भाजपा की योजना में फिट बैठते हैं। सो, वे पार्टी को चुनाव लड़ाएंगे और जीतने पर मुख्यमंत्री बनेंगे।

Read also देशभक्ति दिखाने की होड़!

उत्तराखंड में भाजपा ने इसी महीने पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बनाया है। उनसे पहले इस विधानसभा में दो मुख्यमंत्री रहे। चुनाव से आठ महीने पहले धामी को मुख्यमंत्री बनाने का मतलब ही है कि पार्टी उनके चेहरे पर चुनाव लड़ेगी। वे भी प्रमोद सावंत की तरह युवा हैं और उत्तराखंड में भाजपा का भविष्य हैं। उत्तर प्रदेश में अब कोई कंफ्यूजन नहीं रह गया है। कुछ दिन पहले तक ऐसा लग रहा था कि भाजपा शायद योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित करके चुनाव नहीं लड़े, लेकिन पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी व संघ के पदाधिकारियों ने जिस अंदाज में उनके कामकाज की तारीफ की, उसके बाद कोई कंफ्यूजन नहीं रह गया है।

Read also शी की यात्रा पर भारत की चुप्पी!

अगले साल के शुरू में जिन पांच राज्यों में चुनाव होने वाले हैं उनमें पूर्वोत्तर का एक राज्य मणिपुर भी है। वहां एन बीरेन सिंह मुख्यमंत्री हैं। खबर है कि वे प्रदेश में बची-खुची कांग्रेस को भी खत्म करने में लगे हैं। तभी इस बात की संभावना कम है कि पार्टी उनको चेहरा घोषित करके चुनाव नहीं लड़े। सो, इस तरह चार राज्य- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में पार्टी का चेहरा घोषित है। पंजाब में नाम की घोषणा नहीं हुई है लेकिन वहां भी अंदाजा है कि पार्टी का चेहरा कौन है। अगले साल के अंत में हिमाचल प्रदेश और गुजरात में भी विधानसभा के चुनाव होंगे। मार्च-अप्रैल में पांच राज्यों का चुनाव होने के बाद इन दोनों राज्यों में चुनावी तैयारी शुरू होगी और तभी इन दोनों राज्यों के सीएम दावेदार के बारे में फैसला होगा। हिमाचल में ज्यादा संभावना है कि पार्टी जयराम ठाकुर के चेहरे पर ही लड़े।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग

देश

विदेश

खेल की दुनिया

फिल्मी दुनिया

लाइफ स्टाइल