congress leader leave party कांग्रेस छोड़ कर जाने वालों की पूछ
राजरंग| नया इंडिया| congress leader leave party कांग्रेस छोड़ कर जाने वालों की पूछ

कांग्रेस छोड़ कर जाने वालों की पूछ

congress free india

congress leader leave party कांग्रेस छोड़ कर दूसरी पार्टियों में जाने वालों की पूछ बढ़ गई है। तभी कांग्रेस के जो नेता सात साल से इंतजार कर रहे थे और मान रहे थे कि कांग्रेस के अच्छे दिन आएंगे तो उनके भी दिन फिरेंगे उनकी बेचैनी बढ़ गई है। वे जल्दी से जल्दी पाला बदलने की कोशिश में लगे हैं। पिछले छह महीने के घटनाक्रम ने कांग्रेस नेताओं की बेचैनी बढ़ाई है। इस साल मई में भाजपा ने हिमंता बिस्वा सरमा को असम का मुख्यमंत्री बना दिया। वे कोई छह-सात साल पहले कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में गए थे और एक साल बाद ही असम सरकार में मंत्री बन गए थे। लेकिन उनको मुख्यमंत्री बना कर भाजपा ने बड़ा मैसेज दिया है।

Read also अडानी की मुश्किलें मामूली नहीं

उनके मई में मुख्यमंत्री बनने के दो महीने बाद सात जुलाई को ज्योतिरादित्य सिंधिया केंद्र में मंत्री बन गए और खबर है कि 40 साल पहले उनके पिता को मिला बंगला भी उनको आवंटित हो गया है। उधर कांग्रेस छोड़ कर शिव सेना में गईं प्रियंका चतुर्वेदी राज्यसभा सांसद बन गई हैं। खबर है कि कांग्रेस छोड़ कर तृणमूल कांग्रेस में गईं सुष्मिता देब को पार्टी राज्यसभा सांसद बनाने जा रही है। हाल ही में कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में गए जितिन प्रसाद को राज्य सरकार में मंत्री बनाए जाने की खबर है। पार्टी उनको विधान परिषद का सदस्य बनाने जा रही है। कांग्रेस छोड़ कर गए कई नेता जगन मोहन रेड्डी और के चंद्रशेखर राव की पार्टी में ऊंचे पदों पर हैं और सांसद, विधायक बन चुके हैं। सो, अगले कुछ दिन में कांग्रेस के और नेता पाला बदलें तो हैरानी नहीं होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
दिल्ली, मुंबई में घटे केस
दिल्ली, मुंबई में घटे केस