Antony Chavan Committee congress एंटनी कमेटी की तरह चव्हाण
राजनीति| नया इंडिया| Antony Chavan Committee congress एंटनी कमेटी की तरह चव्हाण

एंटनी कमेटी की तरह चव्हाण कमेटी का हस्र!

Congress party political crisis

दो मई को आए पांच राज्यों के चुनाव नतीजों के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने कांग्रेस की हार के कारणों का विश्लेषण करने के लिए महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई थी। पांच लोगों की इस कमेटी ने अपनी रिपोर्ट दे दी है। लेकिन उस रिपोर्ट में हार के क्या कारण बताए गए और क्या सिफारिशें की गईं, यह किसी को पता नहीं है। बताया जा रहा है कि 16 अक्टूबर को होने वाली कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में इस पर चर्चा हो सकती है। कांग्रेस के जिन नेताओं ने पिछले साल से पार्टी नेतृत्व के ऊपर दबाव बनाया हुआ है वे कार्य समिति में यह मुद्दा उठाएंगे। वे चाहते हैं कि इस पर चर्चा हो और जो सिफारिशें की गई हैं उन पर कार्रवाई हो। Antony Chavan Committee congress

Read also यूपी और किसान आंदोलन का चेहरा प्रियंका!

ध्यान रहे इस कमेटी में सलमान खुर्शीद, विंसेट पाला और जोतिमनि के साथ साथ मनीष तिवारी भी थे। मनीष तिवारी कांग्रेस अध्यक्ष को चिट्ठी लिखने वाले 23 नेताओं के समूह में भी शामिल हैं। इन नेताओं के समूह के कई नेता कार्य समिति के सदस्य हैं। वे अशोक चव्हाण कमेटी की रिपोर्ट पर चर्चा चाहते हैं। गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के बुरी तरह से हारने के बाद एके एंटनी की अध्यक्षता में एक कमेटी बनी थी। एंटनी कमेटी ने भी कांग्रेस की कमियों और चुनाव तैयारियों के बारे में विस्तार से रिपोर्ट दी थी। जी-23 समूह के नेताओं का कहना है कि उस रिपोर्ट की भी सिफारिशों पर अमल नहीं हुआ। अगर कांग्रेस उस पर अमल करती तो 2019 के चुनाव में वैसे ही बुरी तरह से नहीं हारती। इसी तरह ये नेता चाहते हैं कि मई में पांच राज्यों में हारने के कारणों को समझ कर चव्हाण कमेटी की सिफारिशें लागू हों ताकि अगले साल के शुरू में होने वाले पांच राज्यों के चुनाव में कांग्रेस को वैसी ही हार का सामना न करना पड़े।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
पार्टी बनने से पहले ही कैप्टेन से भाजपा का तालमेल
पार्टी बनने से पहले ही कैप्टेन से भाजपा का तालमेल