मौत का आंकड़ा कितना होगा? - Naya India
राजनीति| नया इंडिया|

मौत का आंकड़ा कितना होगा?

भारत सरकार ने अमेरिकी और भारतीय विशेषज्ञों के इस साझा अध्ययन को खारिज किया है कि भारत में 24-25 लाख लोगों को मौत हुई है। सरकार का कहना है कि उसका डाटा प्रमाणिक है। हालांकि पिछले दिनों बिहार अचानक राज्य सरकार ने मौत का डाटा एडजस्ट किया तो एक दिन में 39 सौ से ज्यादा लोगों के मरने की खबर दी। इसका मतलब है कि राज्य सरकार पहले से मौतें छिपा रही थी। बिहार में जिस दिन 39 सौ लोगों के मरने की खबर दी गई उससे पहले राज्य में कुल 55 सौ लोगों की मौत का आंकड़ा था, जो एक दिन में बढ़ कर 94 सौ हो गया। यानी कुल आंकड़ों में 40 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई।

यह भी पढ़ें: भारत-चीन का कारोबार डेढ़ गुना बढ़ा

मौत के आंकड़ों का इसी तरह का एडजस्टमेंट महाराष्ट्र में हो रहा है। पिछले तीन दिन से लगातार वहां दो हजार के करीब लोगों की मौत की खबर आ रही है। महज 10 हजार केस आ रहे हैं और दो हजार लोगों के मरने की खबर आ रही है। जाहिर ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि पहले के आंकड़े अब जोड़े जा रहे हैं। ऐसे ही खबर आई है कि मध्य प्रदेश में मई के महीने में एक लाख 70 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है, जबकि राज्य सरकार ने कोरोना से मौत सिर्फ साढ़े पांच हजार के करीब बताई है। तभी सवाल है कि मौत का वास्तविक आंकड़ा कैसे सामने आएगा? इसका तरीका यह है कि बिहार और महाराष्ट्र की तरह सभी राज्य मौत के आंकड़ों को एडजस्ट करें। इससे थोड़ी बहुत तस्वीर साफ होगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *