भाजपा नेताओं में देर से संक्रमण

देर से ही सही पर भाजपा के नेता भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने लगे हैं। पहले इस बात को लेकर सोशल मीडिया में बड़े सवाल उठे कि भाजपा के नेता क्यों कोरोना से संक्रमित नहीं हो रहे हैं। जब महाराष्ट्र में स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, एनसीपी के नेता जितेंद्र अव्हाड, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन आदि नेता संक्रमित हुए तो यह कहा गया कि कांग्रेस, एनसीपी या आप के नेता लोगों के बीच जा रहे हैं, जान की परवाह किए बिना लोगों की मदद कर रहे हैं इसलिए वे कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं, जबकि भाजपा के नेता घरों में बैठे हैं इसलिए उनको संक्रमण नहीं हो रहा है। हालांकि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के पिछले महीने दिल्ली के एनएलएनजेपी अस्पताल जाने की खबरें और फोटो छपी थी तब उनकी सेहत को लेकर चिंता जताई गई थी। अब उन्होंने खुद ट्विट करके बताया है कि वे कोरोना संक्रमित हो गए हैं। वे पिछले एक महीने से ज्यादा समय से दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के मोर्चे पर खुद कमान संभाले हुए थे। उनकी सक्रियता के बाद दिल्ली में बहुत कुछ बदला।
बहरहाल, भाजपा के नेताओं के कोरोना संक्रमित होने का सिलसिला अब तेज हो गया है। संक्रमण का सबसे बड़ा मामला बिहार में आया, जहां वर्चुअल प्रचार में जुटी भाजपा के अनेक बड़े नेता संक्रमित हुए। प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल से लेकर संगठन महामंत्री सब सब संक्रमित हो गए, जिसकी वजह से पार्टी दफ्तर बंद करना पड़ा। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह जैसे अनेक बड़े नेता संक्रमित हो गए हैं। उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमला रानी वरूण का तो कोरोना से निधन हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares