वैक्सीन के जरिए राजनीति की कोशिश - Naya India
राजरंग| नया इंडिया|

वैक्सीन के जरिए राजनीति की कोशिश

भारत में हर चीज पर राजनीति होती है। कोरोना वायरस पर भी हुई है और वैक्सीन पर भी शुरू हो गई है। कम से कम वैक्सीन को लेकर बन रहे राजनीतिक नारों से तो ऐसा लग रहा है कि पार्टियां इसका अपने हक में इस्तेमाल करने लगी हैं। भाजपा और आम आदमी पार्टी ने वैक्सीन को लेकर जो नारा बनाया है वह शुद्ध रूप से राजनीतिक है। आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज करने के लिए राजधानी में एक अभियान शुरू किया, जिसका नाम दिया- जहां वोट, वहां वैक्सीनेशन! इसका मतलब यह है कि जहां लोगों ने वोट डाले वहां पर यानी पोलिंग बूथ पर वैक्सीन लगेगी। लेकिन इसके साथ ही इस नारे ने स्पष्ट रूप से वैक्सीन को वोट से जोड़ दिया। यह अलग बात है कि अभी तक यह सिर्फ नारा ही है क्योंकि हर पोलिंग बूथ पर वैक्सीन लगने की बात तो छोड़ें, वैक्सीन की कमी के कारण पहले से बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर भी बंद हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बिहार से बनेंगे सबसे ज्यादा मंत्री!

बहरहाल, केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने भी सेवा की संगठन योजना के तहत वैक्सीन की रफ्तार बढ़ाने के लिए एक नारा गढ़ा- मेरा बूथ टीकाकरण युक्त। यह अरविंद केजरीवाल की पार्टी के दिए नारे का ही नया रूप है। असल में भाजपा इस नारे और इस अभियान के जरिए अपनी बूथ कमेटी को मजबूत कर रही है। भाजपा जिस तरह से चुनाव के समय शक्ति केंद्र और पन्ना प्रमुख आदि के सहारे हर बूथ पर रजिस्टर्ड मतदाताओं से संपर्क करती है और उन्हें मतदान केंद्र तक लाती है उसी टीम के सहारे अब लोगों को वैक्सीनेशन कराने का अभियान शुरू किया गया है। इससे भाजपा की अपनी बूथ कमेट को भी काम मिला रहेगा और दूसरे पार्टी के प्रति मतदाताओं का भरोसा भी बढ़ेगा।  

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
एक कॉमेडियन से राजनेता बने भगवंत मान, आप के सीएम उम्मीदवार क्या कॉमेडी के जैसे राजनीति में जीत पाएंगे जनता का दिल
एक कॉमेडियन से राजनेता बने भगवंत मान, आप के सीएम उम्मीदवार क्या कॉमेडी के जैसे राजनीति में जीत पाएंगे जनता का दिल