nayaindia जस्टिस काटजू की चिंता कितनी जायज? - Naya India
kishori-yojna
राजरंग| नया इंडिया|

जस्टिस काटजू की चिंता कितनी जायज?

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिंसा की घटना के बाद ट्विट करके दिल्ली के चुनाव के बारे में आशंका जताई है और एक भविष्यवाणी भी की है। सोमवार को चुनाव की घोषणा के बाद किए गए अपने ट्विट में उन्होंने लिखा है कि दिल्ली में जल्दी ही बड़ा सांप्रदायिक दंगा हो सकता है, जिससे चुनाव में ध्रुवीकरण हो जाएगा और भाजपा चुनाव जीत जाएगी। इस तरह का अंदेश पहले भी कई जानकार जता चुके हैं और जिस तरह से नागरिकता कानून को लेकर चल रहा आंदोलन खत्म नहीं हो रहा है, उससे भी लग रहा है कि कुछ इलाकों में तनाव बढ़ सकता है।

ध्यान रहे दिल्ली के जामिया इलाके में शाहीन बाग में लोग आज भी धरने पर बैठे हैं। लोग सड़क घेर कर धरने पर बैठे हैं, जिससे लाखों लोगों को हर दिन आने जाने में परेशानी हो रही है पर पुलिस धरना खत्म नहीं करा रही है। तभी इसके पीछे कुछ रणनीति देखी जा रही है। धरने पर बैठे लोगों के खिलाफ अगर ऐन चुनाव से पहले कार्रवाई हुई और हिंसा भड़की तो उसका स्वरूप सांप्रदायिक ही होगा। ऊपर से समय से पहले बंद कर दिया गया जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी भी अब खुल गई है। सो, अगर छात्र भी आंदोलित होते हैं तो उसका स्वरूप भी सांप्रदायिक हो सकता है या उसे सांप्रदायिक रूप दिया जा सकता है। तभी जस्टिस काटजू के अंदेशे को पूरी तरह से खारिज नहीं किया जा सरकता है पर यह भी है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सारे प्रयास कर रहे हैं कि चुनाव का फोकस आम आदमी और उसके लिए किए गए कामों पर रहे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 4 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
क्या उद्धव से नाराज हैं पवार?
क्या उद्धव से नाराज हैं पवार?