कंगना बिहार में नहीं करेंगी प्रचार!

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत क्या प्रचार के लिए बिहार जाएंगी? बिहार के साथ साथ दिल्ली और मुंबई में भी यह सवाल पूछा जा रहा है। हालांकि कंगना ने खुद रविवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात के बाद कहा कि वे पॉलिटिशियन नहीं हैं और पॉलिटिक्स से उनका कोई नाता नहीं है। पर वह तो ज्यादातर अभिनेता-अभिनेत्री पॉलिटिशियन नहीं होते हैं पर किसी न किसी पार्टी या नेता के प्रचार में तो जाते ही रहते हैं। अब कई लोगों ने अपना राजनीतिक रूझान भी खुल कर बताया है और प्रचार भी किया है। जैसे लोकसभा चुनाव में दर्जनों अभिनेता-अभिनेत्रियों ने बिहार में कन्हैया कुमार के लिए प्रचार किया और दिल्ली के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों की मदद की।

इसलिए पॉलिटिशयन नहीं होना कोई कारण नहीं है। बिहार के रहने वाले फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को भाजपा ने चुनावी मुद्दा बना दिया है। इस मुद्दे का अधिकतम लाभ तभी मिलेगा, जब कंगना रनौत प्रचार के लिए बिहार जाएं। हालांकि बिहार में भाजपा और जनता दल यू दोनों के नेता इसे लेकर बहुत उत्साहित नहीं हैं। यह भी कहा जा रहा है कि वे उन्होंने जितना विवाद खड़ा कर दिया है और करणी सेना जैसे संगठनों ने उनको जिस तरह समर्थन दिया है, उसमें उनके आने से पार्टी के कुछ दूसरे प्रतिबद्ध वोट नाराज भी हो सकते हैं। तभी बिहार की पार्टी ईकाई अभी इस विचार को खारिज कर रही है। उनका कहना है कि महाराष्ट्र का मामला उठाने या सुशांत सिंह राजपूत का मुद्दा उठाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ही पर्याप्त हैं, जिनको पार्टी ने बिहार का चुनाव प्रभारी बनाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares