nayaindia Kapil Sibal and bhaijan कपिल सिब्बल और उनके भाईजान
राजरंग| नया इंडिया| Kapil Sibal and bhaijan कपिल सिब्बल और उनके भाईजान

कपिल सिब्बल और उनके भाईजान

Kapil Sibal and bhaijan

कपिल सिब्बल ने गुलाम नबी आजाद को भाईजान बताते हुए पद्म भूषण पुरस्कार मिलने की बधाई दी और अपनी पार्टी पर तंज करते हुए कहा कि देश को गुलाम नबी आजादी के योगदान की कद्र है लेकिन कांग्रेस को उनकी सेवाओं की जरूरत नहीं है। सोचें, कपिल सिब्बल क्या इतने भोले हैं कि उनको नहीं पता है कि केंद्र सरकार ने गुलाम नबी आजाद को उनको किसी योगदान के लिए पद्म पुरस्कार नहीं दिया है। इस तरह के योगदान और सामाजिक सेवा के लिए पद्म पुरस्कार दिए जाने लगें तो कांग्रेस के कम से कम एक सौ नेता दावेदार होंगे। सरकार ने खुद कपिल सिब्बल को क्यों नहीं उनके योगदान के लिए पद्म भूषण दे दिया? कपिल सिब्बल जितने काबिल वकील हैं उनको पता होगा कि सरकार ने गुलाम नबी आजाद को किस लिए पुरस्कार दिया है। Kapil Sibal and bhaijan

Read also पद्म पुरस्कारों की प्रामाणिकता?

Ghulam Nabi Azad Kashmir

इसके बावजूद सिब्बल ने इसका बहाना बना कर कांग्रेस नेतृत्व पर तंज किया तो इसका मतलब गहरा है। इसका मतलब है कि सिब्बल को आगे का प्लान पता है और वे उसका हिस्सा हैं। कांग्रेस संगठन चुनावों को लेकर आलाकमान को चिट्ठी लिखने वाले नेताओं को जब भी भाजपा का आदमी बताया जाता है तो कपिल सिब्बल नाराज हो जाते हैं। लेकिन भाजपा की सरकार ने आजाद को पद्म भूषण दिया तो वे खुश हो गए। दूसरी ओर जयराम रमेश और कई नेताओं ने आजाद के ऊपर तंज किया। एक तरफ आजाद को निशाना बनाने वाले और दूसरी ओर कांग्रेस आलाकमान को निशाना बनाने वाले। दोनों में टकराव बढ़ेगा। कांग्रेस नेतृत्व को एक बड़े पलायन के लिए तैयार रहना चाहिए।

Leave a comment

Your email address will not be published.

9 − 8 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Rajasthan : भीलवाड़ा में युवक की हत्या के बाद एक बार फिर तनाव, इंटरनेट बंद…
Rajasthan : भीलवाड़ा में युवक की हत्या के बाद एक बार फिर तनाव, इंटरनेट बंद…