nayaindia Kashmiri Pandit employees transferred कश्मीरी पंडित कर्मचारियों का तबादला
राजरंग| नया इंडिया| Kashmiri Pandit employees transferred कश्मीरी पंडित कर्मचारियों का तबादला

कश्मीरी पंडित कर्मचारियों का तबादला हो रहा है

जम्मू कश्मीर में ऐसा लग रहा है कि सरकार कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा को लेकर अब चिंता में है इसलिए वह उनका सुरक्षित जगहों पर तबादला कर रही है। ध्यान रहे पिछले दिनों एक कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की बडगाम में सरकारी दफ्तर में घुस कर हत्या कर दी गई थी। उसके बाद बड़ी संख्या में कश्मीरी पंडित सड़कों पर उतरे और प्रदर्शन किया। वे सुरक्षा देने की मांग कर रहे थे या जम्मू तबादला करने की बात कह रहे थे। लगातार कई दिन के प्रदर्शन के बाद ऐसा लग रहा है कि सरकार ने तबादले शुरू किए हैं। बताया जा रहा है कि कश्मीरी पंडित सरकारी कर्मचारियों को या जो जिला मुख्यालय में भेजा जा रहा है या वे जहां रहते हैं उसके आसपास उनकी पोस्टिंग की जा रही है। ध्यान रहे प्रधानमंत्री पुनर्वास पैकेज के तहत घाटी में लौटे कश्मीरी पंडितों को दूर-दराज नियुक्त किया गया था।

सोचें, केंद्र में आठ साल से भाजपा की सरकार है, जिसके लिए कश्मीर और कश्मीरी पंडित बड़ा मुद्दा रहे हैं। भाजपा ने कई साल तक पीडीपी के साथ राज्य में सरकार चलाई। उसके बाद पिछले चार साल से राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा हुआ है। करीब तीन साल पहले तो राज्य का विशेष दर्जा भी खत्म कर दिया गया और राज्य का बंटवारा हो गया। राज्य का प्रशासन सीधे तौर पर केंद्रीय गृह मंत्रालय के हाथ में है। सेना और अर्धसैनिक बलों की तैनाती भी भारी संख्या में है। इसके बावजूद सरकार कश्मीरी पंडितों को सुरक्षा नहीं दे पा रही है। आतंकवादियों की कमर तोड़ देने का दावा करने वाली सरकार कश्मीरी पंडितों की रक्षा नहीं कर पा रही है तो उनका तबादल कर रही है। इस तबादले से भी उनको कितनी सुरक्षा मिलेगी यह नहीं कहा जा सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

3 × 1 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
नकवी और आरसीपी कब इस्तीफा देंगे?
नकवी और आरसीपी कब इस्तीफा देंगे?