nayaindia संसदीय बोर्ड बन जाएगा तो क्या होगा? - Naya India
राजरंग| नया इंडिया|

संसदीय बोर्ड बन जाएगा तो क्या होगा?

कांग्रेस के जिन 23 नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है उन पर तंज करते हुए कांग्रेस के एक बडे नेता ने कहा कि अगर उनके सुझाव पर अमल करके संसदीय बोर्ड का गठन कर दिया गया तो क्या हो जाएगा? उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा की तर्ज पर पार्टी में संसदीय बोर्ड भी बना देते हैं और एक मार्गदर्शक मंडल भी बना देते हैं, जिनमें पार्टी के तमाम पुराने नेता यानी 70 साल से ऊपर के वरिष्ठ लोगों को डाल दिया जाए। इससे पार्टी का अंदरूनी झगड़ा अपने आप सुलझ जाएगा।

कांग्रेस के कई दूसरे नेताओं ने भी भाजपा के संसदीय बोर्ड का हवाला दिया है। उनका कहना है कि भाजपा में संसदीय बोर्ड है और दस से ज्यादा सदस्य उसमें होते हैं पर उसका क्या मतलब है? अभी ही संसदीय बोर्ड में चार सदस्यों की जगह महीनों से खाली है और भाजपा को उसे भरने की कोई हड़बड़ी नहीं है। बोर्ड की बैठक हुए भी बहुत दिन हो गए हैं और बैठक होती है तो उसमें भी पहले से तय फैसले पर मुहर लगाई जाती है। भाजपा में भी फैसला तो नरेंद्र मोदी और अमित शाह ही करते हैं। उसी तरह कांग्रेस में भी संसदीय बोर्ड बना दिया जाए तो उससे क्या हो जाएगा? फैसला तो सोनिया, राहुल और प्रियंका को ही करना है! हां, एक फायदा यह जरूर होगा कि कुछ और नेता एडजस्ट हो जाएंगे और उनको यह भ्रम भी रहेगा कि वे पार्टी के संगठन में कुछ मतलब रखते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.

eleven − 6 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अखिलेश यादव का सीएम योगी पर तंज
अखिलेश यादव का सीएम योगी पर तंज