nayaindia maharashtra politics raj thackeray राज ठाकरे की चिट्ठी का क्या मतलब?
बूढ़ा पहाड़
राजरंग| नया इंडिया| maharashtra politics raj thackeray राज ठाकरे की चिट्ठी का क्या मतलब?

राज ठाकरे की चिट्ठी का क्या मतलब?

Maharashtra politics MNS Shivsena

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने महाराष्ट्र भाजपा के नेता और राज्य के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस को एक बेहद आत्मीय चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि अंधेरी ईस्ट विधानसभा के उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी को अपने उम्मीदवार का नामांकन वापस करा लेना चाहिए। उन्होंने महाराष्ट्र की महान परंपरा का हवाला देते हुए कहा कि अंधेरी ईस्ट के दिवंगत विधायक रमेश लटके बहुत अच्छे कार्यकर्ता और नेता था। उनकी पत्नी रुतुजा लटके शिव सेना के उद्धव ठाकरे गुट से चुनाव लड़ रही हैं। इसलिए भाजपा को उनके खिलाफ उम्मीदवार नहीं देना चाहिए। भाजपा ने उस सीट पर अपना उम्मीदवार उतारा है, जिसे एकनाथ शिंदे गुट ने समर्थन दिया है।

राज ठाकरे ने यह चिट्ठी रुतुजा लटके के नामांकन दाखिल करने के अगले दिन लिखी।

यह कोई मामूली राजनीतिक घटनाक्रम नहीं है। जब से शिव सेना टूटी है, तब से एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फड़नवीस न जाने कितनी बार राज ठाकरे से मिल चुके हैं। उद्धव ठाकरे गुट को चुनौती देने के लिए उनको राज ठाकरे की जरूरत है। अंधेरी ईस्ट में चुनाव की घोषणा के बाद भी शिंदे और फड़नवीस ने राज ठाकरे से भेंट की है। इसके बावजूद उन्होंने भाजपा को उम्मीदवार वापस लेने के लिए कहा है। इससे पीछे दो बातें हो सकती हैं। पहली बात तो यह है कि भाजपा अपने को कमजोर मान रही हो और उसे लग रहा हो नहीं जीत पाएगी तो उसने राज ठाकरे के जरिए यह दांव चला हो ताकि हारने के बाद यह मैसेज जाए कि भाजपा ने जीतने की कोशिश नहीं की। दूसरी संभावना यह भी हो सकती है कि राज ठाकरे को भरोसा हो कि वे रुतुजा लटके को अपने साथ ला सकते हैं या वे शिंदे गुट में जा सकती हैं। जो हो राज ठाकरे की चिट्ठी के बाद अंधेरी ईस्ट का चुनाव दिलचस्प हो गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 5 =

बूढ़ा पहाड़
बूढ़ा पहाड़
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
तुर्किए-भूकंप पर भारत की पहल
तुर्किए-भूकंप पर भारत की पहल