पवार की राजनीति का स्टाइल

Must Read

यह पता नहीं है कि शरद पवार ने अमित शाह से मुलाकात में उनके सामने क्या गाजर लटकाई लेकिन यह पक्की बात है कि पवार ने अपने स्टाइल में अपना दांव साध लिया है। पवार के बारे में दिल्ली में एक कहावत मशहूर है कि अगर आप उन्हें हवाईअड्डे पर मुंबई जाने की टिकट खरीदते हुए देखें तो तय मानें कि उनको मुंबई नहीं जाना है, उनकी जेब में कहीं और जाने का बोर्डिंग पास पड़ा होगा। वैसे ही पवार राजनीति भी करते हैं। वे राजनीति में जो दिखाते हैं वह होता नहीं है। तभी अगर भाजपा के नेता उम्मीद बांध रहे हैं कि अमित शाह से मुलाकात के बाद पवार महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार बनवा सकते हैं उन्हें एक बार फिर सोचना चाहिए। हालांकि यह नामुमकिन नहीं क्योंकि वे 2014 में भाजपा को समर्थन देकर उसकी सरकार बनवा चुके हैं पर अगर उनको भाजपा की सरकार बनवानी होती तो अमित शाह से उनकी मुलाकात की खबर सार्वजनिक नहीं होती। लोगों को सीधे तालमेल होने और नई सरकार बनने की खबर मिलती।

सो, यह पवार के अपने स्टाइल की राजनीति है, जिसका मकसद अभी ऐसा लग रहा है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर दबाव बनाना है। पवार इस खेल में कामयाब हो गए हैं। क्योंकि इस मुलाकात की खबर आने के बाद से ही शिव सेना में अफरा-तफरी मची है। पवार ने शिव सेना को दबाव में ला दिया है। उन्होंने बता दिया है कि उनके पास एक दूसरा विकल्प भी है। दूसरा फायदा यह हुआ है कि अचानक अनिल देशमुख का मामला चर्चा से बाहर हो गया है। पिछल तीन दिन से ज्यादा चर्चा शाह और पवार की मुलाकात की हुई। भाजपा को इसका यह फाय़दा हुआ है कि शिव सेना ने दबाव में आकर फिर से हिंदुत्व की बातें शुरू कर दी हैं। उसके नेताओं ने कहा है कि शिव सेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिल कर सरकार जरूर बनाई है लेकिन उसने हिंदुत्व को नहीं छोड़ा है। इससे भाजपा की उम्मीदें बढ़ गई हैं। उसको लग रहा है कि इस विधानसभा में ही उसकी सरकार बनेगी, चाहे शिव सेना के साथ बने या एनसीपी के साथ। भाजपा एक तात्कालिक फोकस यह भी दिख रहा है कि किसी तरह से कांग्रेस को हर जगह की सत्ता से दूर रखा जाए।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

कैसा होगा ‘मोदी मंत्रिमंडल’ का फेरबदल?

बीजेपी हर हालत में उत्तर प्रदेश का चुनाव दोबारा जीतना चाहेगी। लिहाज़ा उत्तर प्रदेश से कुछ चेहरों को ख़ास...

More Articles Like This