nayaindia MPs who don't know vote ऐसे कैसे सांसद, जिनको वोट डालना नहीं आता!
राजरंग| नया इंडिया| MPs who don't know vote ऐसे कैसे सांसद, जिनको वोट डालना नहीं आता!

ऐसे कैसे सांसद, जिनको वोट डालना नहीं आता!

यह कमाल की बात है कि भारत के माननीय सांसद, जिनको लाखों लोग वोट डाल कर चुनते हैं, जब उनको वोट डालने की बारी आती है तो वे गलती कर जाते हैं। उप राष्ट्रपति के चुनाव में 15 सांसदों के वोट अवैध हो गए हैं। सोचें, इन सांसदों के बारे में! भारत में एक सांसद औसतन साढ़े 16 लाख लोगों का प्रतिनिधि होता है और उसे वोट डालने जैसा आसान काम करना नहीं आए तो उसको बारे में क्या कहा जा सकता है? उप राष्ट्रपति के चुनाव में सिर्फ दो उम्मीदवार थे और हर सांसद को उम्मीदवार के आगे अपना वरीयता क्रम लिखना था। यानी अगर सांसद भाजपा का था तो उसे जगदीप धनखड़ के आगे अंक में एक लिखना था और अगर कांग्रेस का है तो मार्गरेट अल्वा के आगे एक लिखना था। इसके बावजूद 15 सांसदों के वोट अवैध हो गए।

अभी 15 दिन पहले हुए राष्ट्रपति के चुनाव में भी 15 सांसदों के वोट अवैध हुए थे। राष्ट्रपति के चुनाव में 48 सौ के करीब विधायकों ने वोट डाला और 748 सांसदों ने वोट किया। वोट करने वाले 48 सौ से करीब विधायकों में से सिर्फ 38 विधायकों का वोट अवैध हुआ, जबकि 748 में 15 सांसदों के वोट अवैध हो गए। वहां भी सिर्फ अपनी पसंद के उम्मीदवार के आगे अंक में एक लिखना था। देश के सिर्फ 13 राज्य ऐसे थे, जहां के किसी विधायक ने अवैध वोट नहीं डाला। इनमें बिहार और छत्तीसगढ जैसे राज्य भी हैं। लेकिन दिल्ली, मध्य प्रदेश, पंजाब, महाराष्ट्र जैसे राज्यों के कई कई विधायकों ने अवैध वोट डाले। सोचें, हर चुनाव से पहले सांसोदं और विधायकों को बाकायदा ट्रेनिंग की जाती है इसके बावजूद वे इतनी आसान वोटिंग प्रक्रिया में भी गलती कर देते हैं। निश्चित रूप से ऐसे सांसदों और विधायकों का पता लगाया जाना चाहिए और प्रशिक्षण देने के साथ साथ चेतावनी भी दी जानी चाहिए।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published.

18 + ten =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आरएसएस पर प्रतिबंध क्‍यों नहीं!
आरएसएस पर प्रतिबंध क्‍यों नहीं!